Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

क्या मुंबई पहले ही मैच में अर्जुन को कोहली एबी और मैक्सवेल जैसे बल्लेबाजों के सामने उतार पाएगी?

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share
गुरुवार, 8 अप्रैल 2021 (23:33 IST)
यह बात तो क्रिकेट फैंस जानते हैं कि टीम कॉम्बिनेशन में रोहित शर्मा की टीम का जवाब नहीं है। खासकर अगर रोहित की टीम की तुलना कोहली से की जाए तो मुंबई कागज और मैदान दोनों पर ही ज्यादा संतुलित दिखाई देती है।
 
यही कारण है कि आईपीएल में मुंबई और बैंगलोर के बीच जितने मैच हुए हैं उनमें से ज्यादातर मुंबई ने जीते हैं। कुल 27 मैचों में से 17 मुंबई ने और 10 बैंगलोर ने जीते हैं।
 
लेकिन इस सीजन सबकी निगाहें टिकी हैं मुंबई के एक खिलाड़ी पर जिसका सरनेम तो तेंदुलकर है लेकिन है वह बाएं हाथ का गेंदबाज। अर्जुन तेंदुलकर को हाल ही में हुई आईपीएल 2021 की नीलामी में मुंबई इंडियन्स ने 20 लाख के बेस प्राइस पर खरीदा था। 
 
21 साल के अर्जुन ने हाल में मुंबई की सीनियर टीम की ओर से पदार्पण किया जब वे हरियाणा के खिलाफ राष्ट्रीय टी-20 चैंपियनशिप सैयद मुश्ताक अली टूर्नामेंट में खेले। इस बाएं हाथ के बल्लेबाज और बाएं हाथ के तेज गेंदबाज ने मुंबई के लिए टी-20 प्रारुप में दो मैच खेलते हुए 3 रन बनाने के अलावा 2 विकेट चटकाए हैं। सैयद मुश्ताक अली खेलने के बाद ही अर्जुन आईपीएल में पंजीकरण के लिए योग्य हो गए थे।
 
 
मुंबई इंडियन्स टीम में सारी बाधाओं को पार कर जूनियर तेंदुलकर पहुंच तो गए लेकिन अब बड़ा सवाल यह है कि क्या कप्तान रोहित शर्मा विराट कोहली, एबी डीविलियर्स, ग्लेन मैक्सवेल जैसे धुरंधर बल्लेबाजों से सजी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम के सामने अर्जुन तेंदुलकर को अंतिम ग्यारह में खिलाने की हिम्मत कर पाएंगे।
 
 
कल तो शायद अर्जुन तेंदुलकर को शायद ही मौका मिले। लेकिन मौका मिलेगा भी तो किस टीम के खिलाफ। आईपीएल में तो कोई भी ऐसी टीम नहीं है जिसके पास विस्फोटक बल्लेबाज नहीं हो तो फिर क्या अर्जुन तेंदुलकर को मौका ही नहीं मिलेगा। 
 
अर्जुन तेंदुलकर को प्लेइंग 11 का हिस्सा मुंबई इंडियन्स जरूर बनाएगी लेकिन सही समय आने पर। पहले मुंबई इंडियन्स प्लेऑफ में अपना स्थान बनाना चाहेगी फिर जब खिलाड़ियों को परखने की बात आएगी तो अर्जुन को मौका मिलेगा।
 
हालांकि ऐसा भी हो सकता है कि प्लेऑफ के लिए क्वालिफाय करने से पहले ही अर्जुन तेंदुलकर को किसी मैच में अंतिम ग्याहर में जगह मिल जाए। अगर ऐसा हुआ तो वह मैच संभवत चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ ही हो सकता है। 
 
वैसे तो चेन्नई सुपर किंग्स में भी अच्छे बल्लेबाज है, लेकिन उतने विस्फोटक नहीं है जितने बाकी टीमों के बल्लेबाज हैं। उस पर पीली जर्सी की इस टीम में उम्रदराज खिलाड़ी कुछ ज्यादा ही हैं। वहीं सलामी बल्लेबाजी में सैम करन उतरते हैं जो कभी कभार ही तेज गति से रन बनाते हैं।
 
 
अर्जुन तेंदुलकर को अपना खेल दिखाने का मौका चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ मिल सकता है। अगर इस टीम के खिलाफ भी वह गेंदबाजी करने नहीं उतरे तो समझ लीजिए इस सीजन तो वह मैदान पर ड्रिंक्स ले जाते ही देखे जा सकेंगे। 
और अगर कोई चमत्कार हो जाता है और अर्जुन तेंदुलकर कल रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के सामने अपना आईपीएल डेब्यू कर लेते हैं तो अंत में उनके बॉलिंग फिगर्स देखने लायक होंगे। कोहली एबी और मैक्सवेल का वह कोपभजन बन जाएंगे।

आईपीएल 2021 की नीलामी लिस्ट में जब अर्जुन तेंदुलकर का नाम आया , तो उन्हें सोशल मीडिया पर जमकर ट्रोल किया गया था। अर्जुन के नीलामी में खरीदे जाने के बाद से ट्रोलिंग और भी बढ़ गई थी। अर्जुन को ट्रोल करते हुए फैन्स ने कहा था कि उन्हें तेंदुलकर सरनेम की वजह से खरीदा गया है।
 
 
इस पर अर्जुन की बहन सारा तेंदुलकर ने इंस्टाग्राम के जरिए अर्जुन की आलोचना करने वालों को जवाब दिया था। सारा ने इंस्टाग्राम के जरिए भाई अर्जुन को बधाई दी थी और साथ ही कड़े शब्दों में लिखा था, "कोई भी तुमसे यह उपलब्धि नहीं छीन सकता है, यह तुम्हारा है। मुझे तुम पर गर्व है।"सारा ने यह शब्द अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी पर लिखे थे।(वेबदुनिया डेस्क)

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने इस कारण खुद को माना भाग्यशाली