Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

पिकासो की मिलियन डॉलर पेंटिग

webdunia
पिकासो स्पेन में जन्मे एक बहुत मशहूर चित्रकार थे। उनकी पेंटिंग दुनियाभर में करोड़ों और खरबों रुपए में बिका करती थीं। दुनियाभर के लोग उनकी पेंटिंग के दीवाने थे। एक बार पिकासो किसी काम से कहीं जा रहे थे, तभी वे रात को किसी छोटे शहर में हॉटल में रुके। वहां के लोग उन्हें नहीं पहचानते थे कि वे इतने मशहूर चित्रकार हैं। लेकिन उसी होटल में ठहरी हुई एक महिला की नजर उन पर पड़ी और वे पिकासो को पहचान गईं। अब ये महिला पिकासो के पास गई और बोली, सर मैं आपकी बहुत बड़ी फैन हूं। प्लीज, मेरी लिए एक पेंटिंग बना दीजिए।

 
पिकासो ने कहा : अभी फिल्हाल मेरे पास यहां पेंटिग का कोई सामान नहीं है। मैं फिर कभी बना दूंगा।
महिला : नहीं सर, बाद में यदि मेरा आपसे कभी मिलना नहीं हुआ तो! वो जिद करने लगी कि अभी ही कुछ बनाकर दीजिए। पिकासो ने अपनी जेब में से एक छोटा सा कागज का टुकड़ा निकाला और होटल रिसेप्‍सनिष्‍ट से पेन लेकर 20 सेकंड से भी कम समय में उसे कुछ बनाकर दे दिया और कहा कि ये लो, यह मिलियन डॉलर की पेंटिंग।
महिला बिना कुछ बोले वहां से चले गई और सोचने लगी कि पिकासो ने उसे जल्दबाजी में कुछ भी बनाकर दे दिया है और उसे पागल बना रहे हैं। फिर उसने मार्केट में जाकर पेंटिंग की कीमत पता की, तब उसे यह जानकर बहुत आश्‍चर्य हुआ कि वह पेंटिंग सच में मिलियन डॉलर की थी। अब यह महिला अगले दिन फिर पिकासो से मिली और उससे कहने लगी कि सर अगर आपने 20 सेकंड से भी कम समय में मिलियन डॉलर की पेंटिंग बना दी तो आप मुझे भी पेंटिंग बनाना सिखा दीजिए। मैं 20 सेकंड में न सही, लेकिन शायद 10 मिनट में तो कुछ बना ही पाउंगी।
 
पिकासो हंसते हुए बोले : ये जो मैंने 20 सेकंड में पेंटिंग बनाई है इसे सीखने में मुझे 30 साल लगे हैं। मैंने अपने जीवन के 30 साल इसे सीखने में दिए हैं, तुम भी दो, सीख जाओगी। अब महिला के पास कोई जवाब नहीं था।
 
दोस्तों इसी महिला की तरह कई लोग होते हैं, जो दूसरों की सफलता देखकर सोचते हैं कि यह कितनी आसानी से उन्हें मिल गई है। इन्हें इतने कम समय में किए गए काम की इतनी कीमत मिलती है। फिर वे ऐसे सफल लोगों से जलने लगते हैं। दोस्तों हमें समझना चाहिए सफलता तो आसानी से मिल जाती है लेकिन उसकी तैयारी में कड़ी मेहनत और अपना पूरा जीवन भी कई बार लगाना पड़ता है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

भोलेनाथ को क्यों प्रिय है भस्म, जानेंगे तो श्रद्धा से भावुक हो जाएंगे, साथ में पढ़ें महाकाल की भस्मार्ती का राज