मंगल यदि है ग्यारहवें भाव में तो रखें ये 5 सावधानियां, करें ये 5 कार्य और जानिए भविष्य

अनिरुद्ध जोशी

शुक्रवार, 10 अप्रैल 2020 (10:47 IST)
मंगल मकर में उच्च का कर्क में नीच का होता है। लाल किताब के अनुसार मंगल नेक और मंगल बद होता है। दसवें घर में मंगल है तो उसे उच्च का माना जाएगा और चौथे घर में है तो नीच का माना जाएगा। लेकिन यहां ग्यारहवें घर में होने या मंदा होने पर क्या सावधानी रखें जानिए।
 
 
कैसा होगा जातक : जंजीर से बंधा पालतू चीता। मां-बाप के घर दौलत का भंडार भरने वाला। कम उम्र में ही दौलत मंद होगा शर्त यह की पिता से धन न लें।
 
पांच सावधानियां
1. गुरु, साले और भाइयों का अपमान न करें।
2. शनि के मंदे कार्य भी न करें।
3. मंगल की वस्तुओं का प्रयोग नहीं करना चाहिए।
4. पैतृक संपत्ति कभी ना बेचे
5. कभी भी क्रोध न करें।
 
ये पांच कार्य करें
1. पहली संतान के जन्म पर कुत्ता पालें।
2. हमेशा अपने पास लाल चंदन रखें। 
3. घर में मिट्टी या चांदी के बर्तन में शहद भरकर रखें।
4. नित्य हनुमान चालीसा पढ़ें।
5. कभी कभार सफेद सुरमा आंखों में लगाएं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख शुक्रवार, 10 अप्रैल 2020 : आज इन 4 राशि के लोग खुद को तरोताजा महसूस करेंगे