Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

TIk Tok भारत में अपना कारोबार बंद करेगी, ई मेल से कर्मचारियों को किया सूचित

हमें फॉलो करें webdunia
बुधवार, 27 जनवरी 2021 (15:07 IST)
नई दिल्ली। चीनी सोशल मीडिया कंपनी बाइटडांस ने भारत में अपना कारोबार बंद करने की घोषणा की है। भारत में टिकटॉक और हेलो ऐप का स्वामित्व रखने वाली इस कंपनी की सेवाओं पर प्रतिबंध जारी हैं। टिकटॉक के वैश्विक अंतरिम प्रमुख वेनेसा पाप्पस और वैश्विक व्यापार समाधान के उपाध्यक्ष ब्लेक चांडली ने कर्मचारियों को भेजे एक ई-मेल में कंपनी के निर्णय के बारे में बताया कि वह टीम के आकार को कम कर रही है और इस निर्णय से भारत के सभी कर्मचारी प्रभावित होंगे।
अधिकारियों ने कंपनी की भारत में वापसी पर अनिश्चितता व्यक्त की, लेकिन कहा कि आने वाले समय में ऐसा होने की उम्मीद बनी हुई है। ई-मेल में कहा गया है कि हम यह नहीं जानते कि हम भारत में कब वापसी करेंगे? हम अपने लचीलेपन पर भरोसा कर रहे हैं और आने वाले समय में ऐसा करने की इच्छा रखते हैं। 
बाइटडांस के एक सूत्र के अनुसार कंपनी ने बुधवार को एक टाउन हॉल का आयोजन किया, जहां उसने भारत के कारोबार को बंद करने के बारे में बताया। जब इस बारे में टिकटॉक के प्रवक्ता से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि कंपनी 29 जून 2020 को जारी भारत सरकार के आदेश का लगातार पालन कर रही है।
 
उन्होंने कहा कि यह इसलिए निराशाजनक है कि पिछले 7 महीनों में हमारे प्रयासों के बावजूद हमें इस बारे में स्पष्ट दिशा नहीं दी गई कि हमारे ऐप को कैसे और कब फिर से चालू किया जा सकता है? इस बात का गहरा अफसोस है कि भारत में हमारे 2,000 से अधिक कर्मचारियों को आधे साल तक बनाए रखने के बाद अब हमारे पास अपने कार्यबल को घटाने के अलावा कोई विकल्प नहीं है।
 
प्रवक्ता ने कहा कि कंपनी टिक्कॉक को फिर से शुरू करने के लिए तत्पर है। भारत सरकार ने जून 2020 में टिकटॉक और हैलो सहित चीन के 59 ऐप को बंद कर दिया था। ई-मेल में लिखा है कि हमने खर्चों में कटौती की है जबकि हम अभी भी लाभ का भुगतान कर रहे हैं। हालांकि जब हमारे ऐप काम नहीं कर रहे, हम कर्मचारियों की पूरी जिम्मेदारी का निर्वाह नहीं कर सकते। हम इस फैसले से कर्मचारियों पर होने वाले असर से परिचित हैं और हमें अपनी टीम के साथ सहानुभूति है। बाइटडांस के अधिकारियों ने कहा कि कंपनी द्वारा स्थानीय कानूनों और नियमों का पालन करने के बावजूद उसके ऐप पर प्रतिबंध लगाया गया। (भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

गणतंत्र दिवस पर छत्तीसगढ़ में 12 महिलाओं समेत 24 नक्सलियों ने किया समर्पण