Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

पहले टेस्ट से पहले बुरे फॉर्म पर बोले कप्तान, सिर्फ शतक लगाना ही नहीं है योगदान (वीडियो)

webdunia
बुधवार, 24 नवंबर 2021 (15:55 IST)
कानपुर:अजिंक्य रहाणे को अपनी खराब फॉर्म से संबंधित सवाल पूछना अच्छा नहीं लगा जिस पर उन्होंने कहा कि उनकी फॉर्म के बारे में चिंताएं आधारहीन हैं और योगदान का मतलब प्रत्येक मैच में टेस्ट शतक जमाना नहीं है।

रहाणे ने इस साल में 11 टेस्ट मैचों में 19 के औसत से रन बनाये हैं। उन पर यह दबाव दिखायी दिया और उन्होंने कहा कि एक विशेषज्ञ शीर्ष क्रम के बल्लेबाज द्वारा बनाये गये ‘30, 40 या 50 रन’ भी स्वीकार्य योगदान होगा, बशर्ते टीम जीत जाए।

फॉर्म को लेकर चिंतित नहीं है रहाणे

न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टेस्ट से पहले रहाणे ने कहा, ‘‘अपनी फॉर्म के बारे में चिंतित नहीं हूं। मेरा काम अपनी टीम के जितना संभव हो सके, उतना योगदान करना है। योगदान का मतलब यह नहीं है कि आपको प्रत्येक मैच में 100 रन बनाने की जरूरत है। प्रति पारी 30, 40, 50 रन का स्कोर भी महत्वपूर्ण योगदान हैं। ’’

रहाणे स्वीकार नहीं करेंगे लेकिन वह जानते हैं कि जहां तक दक्षिण अफ्रीका दौरे की श्रृंखला के लिये चयन का संबंध है तो कानपुर और मुंबई (दूसरा टेस्ट) में खराब स्कोर से वह मुश्किल स्थिति में पहुंच सकते हैं।भविष्य के बारे में उनके विचार थे कि ‘जो होगा सो होगा’।
webdunia

उन्होंने कहा, ‘‘भविष्य में क्या होना वाला है, मैं उसे लेकर ज्यादा चिंतित नहीं हूं। भविष्य में जो होना होगा, वो होगा ही और मुझे वर्तमान में बने रहने की जरूरत है ताकि मैं इस समय अपना सर्वश्रेष्ठ दूं। ’’

यह पूछने पर कि क्या यह संभव है कि बल्लेबाज और कप्तान को अलग अलग करके देखा जाये। तो उन्होंने कहा, ‘‘जब मैं बल्लेबाजी कर रहा होता हूं तो मेरा ध्यान सिर्फ बल्लेबाजी पर होता है और मैं उसी क्षण में होता हूं। यह इतना ही सरल है। जब मैं क्षेत्ररक्षण कर रहा होता हूं तो मैं सोच रहा होता हूं कि हमारी योजनायें किस तरह की हैं और रणनीति कैसी है।’’

राहुल द्रविड़ रहेंगे कोच

कप्तान ने कहा कि नये कोच राहुल द्रविड़ ने उन्हें कोई विशेष गुर नहीं दिये हैं बल्कि उन्हें चीजों को सरल रखने को कहा है क्योंकि वे काफी अनुभवी हैं।

रहाणे ने कहा, ‘‘राहुल भाई ने हमें अपने मजबूत पक्षों का समर्थन करने और चीजें सरल रखने को कहा है। उन्होंने कहा कि ज्यादा चिंता मत करो, मुझे और पुजारा को कहा कि हम अपनी योजना जानते हैं और हम काफी वर्षों से खेल रहे हैं। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘इसलिये चीजें सरल रखना और खुद का समर्थन करते रहना अहम है। हम ज्यादा चिंतित नहीं हैं।’’
यही बात टीम के उप कप्तान ने मंगलवार को कही थी।

स्पिन की मददगार पिचों पर भारतीय बल्लेबाजी भी पड़ सकती है मुश्किल में

आमतौर पर भारतीय कप्तान ऐसा नहीं कहते लेकिन रहाणे ने स्वीकार किया कि भारतीय बल्लेबाजों को भी स्पिनरों के मुफीद पिचों पर मुश्किल होगी, हालांकि वह ग्रीन पार्क की पिच को देखकर खुश दिख रहे थे।

यहां इस बात का भी जिक्र किया जाना चाहिए कि पिछले कुछ वर्षों में भारतीय पिचों पर रहाणे को भी स्पिनरों के खिलाफ जूझना पड़ा है और यह देखना दिलचस्प होगा कि वह अयाज पटेल की स्पिन के खिलाफ कैसा प्रदर्शन करते हैं।
webdunia

रहाणे ने कहा, ‘‘भारतीय बल्लेबाजों के लिये भी स्पिनरों के लिये मददगार पिचों पर खेलना चुनौतीपूर्ण है। हम इस तरह की विकेटों पर नहीं खेलते। बल्लेबाजों को मैदान पर जाकर इसका फायदा उठाना होगा। अगर हम टेस्ट मैच और श्रृंखला जीतते हैं तो हमें स्पिनरों के मुफीद पिच की कोई चिंता नहीं है। ’’

उन्होंने पिच के बारे में कहा कि यह जैसा भी बर्ताव करेगी, उनकी टीम इसके अनुकूल प्रदर्शन करने की कोशिश करेगी। रहाणे ने कहा, ‘‘हां, हम खुश हैं। मैं नहीं जानता कि विकेट किस तरह का व्यवहार करेगा। हमें जो भी विकेट मिलेगा, उसके अनुरूप ढलना होगा। हम इसके लिये तैयार हैं। ’’

श्रेयस अय्यर करेंगे टेस्ट पदार्पण

केएल राहुल के चोटिल होने से श्रेयस अय्यर के लिये टीम में जगह बनाने के दरवाजे खुल गये हैं जो अपना पहला टेस्ट मैच खेलेंगे लेकिन भारतीय कप्तान ने यह खुलासा करने से इनकार कर दिया कि तीसरा स्पिनर और दूसरा तेज गेंदबाज कौन होगा, हालांकि तेज गेंदबाजी विभाग में उमेश यादव के साथ जोड़ी बनाने के लिये इशांत शर्मा निश्चित दिखते हैं।

स्पिन विभाग में अक्षर पटेल ने हालांकि अभ्यास नहीं किया लेकिन जयंत यादव नेट सत्र के दौरान अच्छी लय में दिखे। रहाणे ने पुष्टि की, ‘‘हां, श्रेयस अपना पदार्पण करेंगे। ’’उन्होंने चोटिल केएल राहुल के बारे में बात करते हुए कहा, ‘‘निश्चित रूप से, यह बड़ा झटका है।’’लेकिन उन्होंने स्पष्ट किया कि उन्हें सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल और शुभमन गिल पर पूरा भरोसा है।
उन्होंने कहा, ‘‘उसने (केएल राहुल) ने इंग्लैंड में अच्छा किया था और वह अच्छी फॉर्म में था। निश्चित रूप से, हमें उसकी कमी खलेगी लेकिन हमारे पास खिलाड़ी हैं जो अपना काम कर सकते हैं, हमारे पास खिलाड़ी हैं जिन्होंने हमारे लिये बीते समय में अच्छा किया है और वे काफी अनुभवी हैं। मैं पारी का आगाज करने वाले स्थान के बारे में ज्यादा चिंतित नहीं हूं। ’’

जब उनसे तीन स्पिनरों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘‘मैं इसके बारे में कुछ खुलासा नहीं कर सकता। हम अभी संयोजन के बारे में निश्चित नहीं हैं और भारत में आप जानते हो कि यहां स्पिनरों के मुफीद पिचें होंगी। नहीं पता कि विकेट कैसा रहेगा। हमें कल तक इंतजार करना होगा और वहां से आकलन करना होगा। ’’उन्होंने कहा, ‘‘मैं संयोजन के बारे में चिंतित नहीं हूं। जो भी कल खेलेगा, वह शत प्रतिशत तैयार है। ’’(भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

10 टीमें, 74 मैच! 2 महीने लंबा IPL 2022 इस तारीख से चेन्नई में शुरु हो सकता है