एशेज सीरीज : ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन को बेन स्टोक्स ने क्यों किया परेशान?

वेबदुनिया न्यूज डेस्क

बुधवार, 4 सितम्बर 2019 (20:21 IST)
मैनचेस्टर। ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच 5 एशेज टेस्ट मैचों की सीरीज के चौथे टेस्ट मैच की शुरुआत बुधवार से हुई। मैच से पहले ऑस्ट्रेलियाई टीम के कप्तान टिम पेन ने यह कहकर सबको चौंका दिया कि इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स ने उन्हें काफी परेशान किया।
 
टिम पेन ने कहा कि मैच में उतरने से पहले मुझे वह मंजर याद आ गया, जब हेडिंग्ले में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में जीत हमारी तश्तरी में आ चुकी थी, तभी मैच में अचानक नाटकीय मोड़ आ गया।

ALSO READ: Ashes टेस्ट में बेन स्टोक्स के करिश्माई शतक से इंग्लैंड की 1 विकेट से सनसनीखेज जीत
 
इसके बाद यह मैच 1 विकेट से इंग्लैंड की झोली में चला गया। इस टेस्ट में बेन स्टोक्स ने 135 रनों की नाबाद पारी खेली थी और जेक लीच के साथ दसवें विकेट के लिए 76 रनों की विजयी साझेदारी निभाई थी।
पेन ने कहा कि इस मैच में बेन स्टोक्स ने मुझे इस कदर परेशान किया था कि मेरी रातों की नींद उड़ गई थी। अभी भी मैं परेशान हूं कि कहीं फिर से हमें ऐसी स्थिति का सामना नहीं करना पड़ जाए। मैं जानता हूं कि बेन स्टोक्स किस तरह के जुझारू बल्लेबाज हैं। वो कभी हार नहीं मानते और डटे रहते हैं। उन्हीं की वजह से ऑस्ट्रेलिया एशेज सीरीज में 2-0 की बढ़त लेने के बजाय 1-1 की बराबरी पर आ गया।
 
ALSO READ: वर्ल्ड कप 2019 में इंग्लैंड की जीत के हीरो बेन स्टोक्स ने किया बड़ा खुलासा
 
ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने कहा कि चौथे टेस्ट मैच के लिए हमने बेन स्टोक्स के खिलाफ कुछ योजनाएं तैयार की हैं। हमारे गेंदबाजों को इन योजनाओं का सही सही ढंग से काम करना होगा। 
टिम पेन ने स्टीव स्मिथ के आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में विराट कोहली को 1 अंक से पीछे छोड़कर दुनिया के नंबर एक बल्लेबाज बनने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि मुझे उम्मीद है कि वे चौथे टेस्ट मैच में भी कमाल करेंगे।

सनद रहे कि लॉर्ड्स में हुए दूसरे टेस्ट मैच के दौरान इंग्लैड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर की गेंद स्मिथ की गर्दन में लग जाने से वे घायल हो गए थे। अस्वस्थ होने के कारण स्मिथ को तीसरे टेस्ट में आराम दिया गया था।

ALSO READ: बेन स्टोक्स ने बनाया वर्ल्ड चैंपियन लेकिन पिता को मिल रही हैं गालियां

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख गिलक्रिस्ट बोले क्रिकेट मैच में अगर उस वक्त DRS होता तो मैं आउट नहीं होता