स्पिनरों को प्रोत्साहन नहीं मिलने तक ऑस्ट्रेलिया उपमहाद्वीप में संघर्ष करेंगा: ओकीफी

सोमवार, 6 अप्रैल 2020 (22:02 IST)
सिडनी। प्रथम श्रेणी क्रिकेट से रविवार को संन्यास की घोषणा करने वाले ऑस्ट्रेलिया के पूर्व स्पिनर स्टीव ओकीफी ने कहा कि जब तब घरेलू क्रिकेट में स्पिनरों को मैच जिताने का मौका नहीं मिलेगा, तब तक वे उपमहाद्विप में संघर्ष करेंगे। 
 
इस 35 वर्षीय बायें हाथ के स्पिनर ने ऑस्ट्रेलिया की तरफ से 9 टेस्ट मैच खेले जिनमें उन्होंने 35 विकेट लिए थे। 
 
न्यू साउथ वेल्स ने पिछले सत्र में शेफील्ड शील्ड जीती थी जिसमें ओकीफी ने 22.25 की औसत से 16 विकेट लेकर अपना अच्छा योगदान दिया था। बायें हाथ के इस गेंदबाज ने घरेलू क्रिकेट में 24.66 की औसत से 301 विकेट लिए है। 
 
संन्यास के बाद उन्होंने स्पिनरों को खुद को साबित करने के लिए अधिक मौके देने की वकालत की। 
 
ओकीफी ने कहा, ‘हमारे देश में काफी प्रतिभा मौजूद है, स्पिन गेंदबाजी में गहराई है। मैं हर टीम (घरेलू) के शीर्ष दो स्पिनरों को देखूं तो मुझे लगता है कि प्रतिभा की कोई कमी नहीं है।
 
 उन्होंने कहा, ‘समस्या यह है कि उन्हें पहले 10 ओवरों में गेंदबाजी का मौका नहीं मिलता है, ना ही उन्हें मैच जीतने में योगदान देने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। उन्हें खुद को व्यक्त करने की छूट नहीं दी जाती है।’ (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख दर्शकों के बिना स्टेडियम में अभी मैच करने के पक्ष में नहीं है वकार