लियोन और कमिंस के कहर से ऑस्ट्रेलिया ने पहला एशेज टेस्ट 251 रनों से जीता

सोमवार, 5 अगस्त 2019 (21:35 IST)
एजबस्टन। ऑफ स्पिनर नाथन लियोन के 49 रन पर 6 विकेट और तेज गेंदबाज पैट कमिंस के 32 रन पर 4 विकेट की घातक गेंदबाजी से ऑस्ट्रेलिया ने मेजबान इंग्लैंड को पहले एशेज टेस्ट के 5वें और अंतिम दिन सोमवार को 251 रन के बड़े अंतर से हराकर 5 मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली। 
 
ऑस्ट्रेलिया ने इस मुकाबले में पहले 3 दिन तक दबाव में रहने के बाद 4 और 5वें दिन शानदार वापसी करते हुए जीत अपने नाम की। मैच के पहले 3 दिन तक हावी रहने वाली मेजबान इंग्लैंड की टीम ने आखिरी दिन दो सत्रों में ही समर्पण कर दिया। ऑस्ट्रेलिया ने इस तरह आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का पहला टेस्ट जीत लिया। ऑस्ट्रेलिया को इस जीत से 24 अंक मिले। 
 
398 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड की टीम 52.3 ओवर में 146 रन पर लुढ़क गई। मैच की दोनों पारियों में 144 और 142 रन बनाने वाले स्टीव स्मिथ को प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार दिया गया। 
 
ऑफ स्पिनर लियोन ने पहली पारी के 112 रन पर 3 विकेट के बाद दूसरी पारी में 20 ओवर में 49 रन पर 6 विकेट लिए। लियोन ने इस दौरान अपने 87वें टेस्ट में 350 विकेट भी पूरे कर लिए। कमिंस ने पहली पारी में 84 रन पर 3 विकेट लिए थे और दूसरी पारी में उन्होंने 11.3 ओवर में 32 रन पर 4 विकेट लिए। कमिंस ने अपने 21वें टेस्ट में 100 विकेट पूरे किए। 
इंग्लैंड ने पहली पारी में 90 रन की बढ़त हासिल की थी लेकिन दूसरी पारी में उसके बल्लेबाजों ने शर्मनाक प्रदर्शन किया और लियोन की घूमती गेंदों के सामने घुटने तक टेक दिए। 
 
इंग्लैंड ने लक्ष्य का पीछा करते हुए कल के बिना कोई विकेट खोए 13 रन से आगे खेलना शुरू किया और उसने सुबह के सत्र में 85 रन तक अपने 4 विकेट गंवा दिए। लंच के बाद इंग्लिश बल्लेबाजों ने काफी गैर जिम्मेदाराना खेल दिखाया और उसकी दूसरी पारी 52.3 ओवर में सिमट गई। 
 
पहली पारी के शतकधारी रोरी बर्न्स ने 7 और जेसन रॉय ने 6 रन से अपनी पारी को आगे बढ़ाया। इंग्लैंड को सुबह पहला झटका जल्द ही लग गया जब पैट कमिंस ने बर्न्स को नाथन लियोन के हाथों कैच करा दिया। बर्न्स 33 गेंदों में 11 रन ही बना सके। 
 
रॉय और कप्तान जो रूट ने दूसरे विकेट के लिए 41 रन की साझेदारी की। लियोन ने रॉय को आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा। रॉय ने 58 गेंदों में 4 चौकों की मदद से 28 रन बनाए। लियोन ने इसके बाद जो डेनली को अपना दूसरा शिकार बनाया। डेनली 11 रन ही बना सके। 
 
रूट 57 गेंदों में 3 चौकों के सहारे 28 रन बनाकर लंच से पहले आउट हो गए। लियोन ने रूट को आउट कर ऑस्ट्रेलिया को बेहद मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया और इंग्लैंड गहरे संकट में घिर गया। रूट ने 57 गेंदों में 3 चौकों की मदद से 28 रन बनाए। लंच के समय जोस बटलर एक और बेन स्टोक्स खाता खोले बिना क्रीज पर थे। 
 
इंग्लैंड ने लंच के बाद 12 रन के अंतराल में 3 विकेट गंवाए और उसका स्कोर 7 विकेट पर 97 रन हो गया। इसी के साथ इंग्लैंड का संघर्ष समाप्त हो गया और उसकी हार भी तय हो गई। लंच के बाद कमिंस ने बटलर को बोल्ड कर दिया और कुछ देर बाद जानी बेयरस्टो का विकेट भी ले लिया। बटलर ने एक और बेयरस्टो ने छह रन बनाए। 
लियोन ने स्टोक्स को कप्तान टिम पेन के हाथों कैच कराया। स्टोक्स 6 रन बना सके। क्रिस वोक्स ने मोईन अली के साथ 8वें विकेट के लिए 39 रन जोड़े लेकिन लियोन ने अली को डेविड वॉर्नर के हाथों कैच कराया और फिर अगली गेंद पर स्टुअर्ट ब्रॉड को भी चलता कर दिया। अली ने 28 गेंदों पर 4 रन बनाए। 
 
कमिंस ने वोक्स का विकेट लेकर इंग्लैंड की पारी 146 रन पर समेट दी। वोक्स ने 54 गेंदों पर 7 चौकों की मदद से सर्वाधिक 37 रन बनाए। इस तरह एकदिवसीय क्रिकेट का विश्व चैंपियन बनने के बाद इंग्लैंड को पहले एशेज टेस्ट में शर्मनाक शिकस्त का सामना करना पड़ा। 
 
एजबस्टन मैदान में किसी टीम की रनों के लिहाज से यह दूसरी सबसे बड़ी जीत है। ऑस्ट्रेलिया के लिए इंग्लैंड में यह पांचवां मौका है जब उसने पहली पारी में पिछड़ने के बाद जीत हासिल की है। इंग्लैंड के लिए घरेलू टेस्ट में यह चौथा मौका है जब उसने पहली पारी में 90 रन या उससे ज्यादा की बढ़त लेने के बाद टेस्ट गंवाया है। 
 
पिछले 100 वर्षों में एशेज में यह तीसरा मौका है जब किसी टीम ने 122 रन या उससे कम पर 8 विकेट गंवाने के बाद वापसी करते हुए टेस्ट जीता है। इंग्लैंड की दूसरी पारी में शर्मनाक बल्लेबाजी का आलम यह रहा कि उसके 11 बल्लेबाज कुल मिलाकर ऑस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ के दूसरी पारी के 142 रन से 4 रन ही अधिक बना सके। संक्षिप्त स्कोर : ऑस्ट्रेलिया - 284 और 7 विकेट पर 487 पारी घोषित, इंग्लैंड - 374 और 146 रन बना सकी।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख अगस्त के मध्य तक हो जाएगा टीम इंडिया के कोच का फैसला