भारत के गैर अनुबंधित खिलाड़ियों को बीपीएल में लेना चाहता है बांग्लादेश

रविवार, 17 नवंबर 2019 (16:06 IST)
ढाका। बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) अपने नए सिरे से तैयार किए गए घरेलू टी-20 लीग के स्तर को बढ़ाने के लिए गैर अनुबंधित भारतीय खिलाड़ियों को भविष्य में इस टूर्नामेंट से जोड़ना चाहता है। मैच फिक्सिंग और कुछ विदेशी खिलाड़ियों के भुगतान में देरी से 2011 में शुरू किए गए बांग्लादेश प्रीमियर लीग (बीपीएल) की छवि धूमिल हुई थी जिसके बाद देश के क्रिकेट बोर्ड ने इसे पूरी तरह से अपने नियंत्रण में ले लिया और इसे ‘बंगबंधु बीपीएल’ का नया नाम दिया।

बीसीबी अध्यक्ष नजमुल हसन ने शनिवार को कहा, हमने उन भारतीय खिलाड़ियों को लाने का प्रस्ताव रखा है जो उनके बोर्ड (बीसीसीआई) से अनुबंधित नहीं हैं। वे सैद्धां‍तिक तौर पर खेल सकते हैं। उन्होंने कहा, मैं पक्के तौर पर नहीं कह सकता कि हम इस बीपीएल में उन्हें ले पाएंगे लेकिन उम्मीद है कि भविष्य में ऐसा होगा।

बीसीसीआई अपने क्रिकेटरों को विदेशी टी-20 लीग में खेलने की अनुमति नहीं देता है लेकिन युवराज सिंह जैसे खिलाड़ी सभी तरह की क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद विदेशी लीग में खेले हैं, जिनमें ग्लोबल टी-20 कनाडा भी शामिल है।

दिलचस्प तथ्य यह है कि 3 भारतीय क्रिकेटरों मानविंदर बिस्ला, तेज गेंदबाज मनप्रीत गोनी और राजस्थान रॉयल्स के पूर्व खिलाड़ी कुमार बोरेसा उन 439 विदेशी खिलाड़ियों में शामिल हैं, जिन्होंने बीपीएल के नए सत्र के लिए ड्राफ्ट में अपने नाम सूचीबद्ध किए हैं। ये तीनों खिलाड़ी हालांकि बीसीसीआई की केंद्रीय अनुबंध प्रणाली का हिस्सा नहीं हैं। बीपीएल 11 दिसंबर से शुरू होगा।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख मोहम्मद शमी, मयंक अग्रवाल टेस्ट करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग पर