Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

बुमराह-शमी ने किया अच्छा गेंदबाजी अभ्यास, बल्लेबाजों ने भी रन जुटाए

webdunia
शनिवार, 15 फ़रवरी 2020 (14:37 IST)
हैमिल्टन। जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी ने न्यूजीलैंड एकादश के खिलाफ भारत के अभ्यास मैच के दूसरे दिन शानदार गेंदबाजी की और वेलिंगटन में होने वाले पहले टेस्ट से पहले घरेलू टीम को चेताया कि मेजबानों के लिए चीजें इतनी आसान नहीं होंगी।
न्यूजीलैंड की टीम 74.2 ओवर में 235 रन पर सिमट गई जिसमें बुमराह (11 ओवर में 18 रन देकर 2 विकेट) और शमी (10 ओवर में 17 रन देकर 2 विकेट) ने परिस्थितियों का अच्छा इस्तेमाल किया। उमेश यादव (13 ओवर में 49 रन देकर 2 विकेट) और नवदीप सैनी (15 ओवर में 58 रन देकर 2 विकेट) ने काफी ओवर फेंके लेकिन वे टीम के 2 मुख्य तेज गेंदबाजों की तरह अपने स्पैल से बल्लेबाजों को परेशान नहीं कर सके।
 
पिच अब बल्लेबाजों के लिए आसान होती जा रही है। पृथ्वी शॉ (19 गेंद में नाबाद 29 रन) ने कई कवर ड्राइव लगाई और उनकी पारी में 1 शानदार छक्का भी शामिल रहा जबकि मयंक अग्रवाल (17 गेंद में नाबाद 23 रन) ने 1 छक्का लगाया जिससे दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक भारत ने बिना विकेट गंवाए 53 रन बना लिए थे।
मुख्य कोच रवि शास्त्री अपने तेज गेंदबाजों की लय देखना चाहते थे और बुमराह व शमी ने बादलोंभरे मौसम में काफी अच्छी गेंदबाजी की।
 
उमेश और सैनी ने हालांकि अपने पहले स्पैल में काफी फुल लेंथ गेंद फेंकी। बुमराह ने उछाल हासिल करते हुए बल्लेबाजों को परेशान किया और 3 छोटे स्पैल में गेंदबाजी की जबकि शमी ने 2 स्पैल डाले। शमी ने ध्यान सीम को दोनों तरीकों से गेंदबाजी करने पर लगाया।
 
बुमराह ने विल यंग (2) को कोण लेती गेंद से बल्ला छुआने के लिए उकसाया और ऋषभ पंत ने इस कैच को लपकने में जरा गलती नहीं की। इसके बाद उन्होंने फिन एलेन (20) का विकेट झटका। लंच के बाद शमी के दूसरे स्पैल ने न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों को काफी परेशान किया जिसमें सीनियर अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी जिमी नीशाम शामिल थे, जो उनकी अतिरिक्त उछाल लेती गेंद का सामना नहीं कर सके।
 
इससे पहले उन्होंने क्रीज पर जमे हुए हेनरी कूपर (68 गेंदों में 40 रन) को फुल लेंथ गेंद पर आउट किया। इसके बाद दोनों अंतिम सत्र में गेंदबाजी के लिए नहीं उतरे। अंत में आधा घंटा काफी मनोरंजक रहा जिसमें स्कॉट कुगेलीजन और ब्लेयर टिकनर की गेंदों को शॉ और अग्रवाल ने काफी पीटा और आसानी से रन जुटाए।
 
भारत ने लगातार दूसरे दिन शॉ-अग्रवाल की सलामी जोड़ी को उतारा जिससे शुभमन गिल को शायद अपने टेस्ट पदार्पण के लिए इंतजार करना होगा।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

कर्नाटक के श्रीनिवास गौड़ा ने तोड़ा उसेन बोल्‍ट का रिकॉर्ड, मात्र 9.55 सेकंड में पूरी की 100 मीटर की रेस