Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

पुजारा के टेस्ट करियर को मिली संजीवनी, इंग्लैंड दौरे पर एकमात्र टेस्ट के लिए चुने गए

हमें फॉलो करें webdunia
सोमवार, 23 मई 2022 (12:20 IST)
दक्षिण अफ़्रीका में ख़राब प्रदर्शन के बाद पुजारा को श्रीलंका के ख़िलाफ़ खेली गई घरेलू टेस्ट सीरीज़ से बाहर कर दिया गया था। इंग्लैंड के ख़िलाफ़ होने वाले एकमात्र टेस्ट के लिए चेतेश्वर पुजारा की भारतीय टीम में वापसी हुई है।

पिछले कुछ समय से ख़राब प्रदर्शन के कारण पुजारा को श्रीलंका के ख़िलाफ़ सीरीज़ के लिए भारतीय टेस्ट टीम से बाहर कर दिया गया था। इसके अलावा बोर्ड की सालाना कॉन्ट्रैक्ट लिस्ट में भी उन्हें ग्रेड ए+ से ग्रेड बी में भेज दिया गया। उन्होंने अपना अंतिम टेस्ट शतक 2018-19 में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर बनाया था।

4 साल पहले टेस्ट शतक लगाया था पुजारा ने

हाल ही में वह दक्षिण अफ़्रीका और न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ लगातार टेस्ट में शून्य पर आउट हुए थे। ऑस्ट्रेलिया के 2018-19 दौरे के बाद पुजारा ने 27.38 के औसत से 48 परियों में सिर्फ़ 1287 रन बनाए, जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 91 रन रहा। वहीं इस दौरान उनकी करियर औसत भी गिरकर 47 से 44.25 हो गया।

अब काउंटी क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन कर उन्होंने टीम में वापसी की है।चोट के कारण आईपीएल से बाहर हुए रवींद्र जडेजा को भी 17 सदस्यीय दल में जगह मिली है, जबकि प्रसिद्ध कृष्णा नए चेहरे हैं। इंग्लैंड के ख़िलाफ़ यह टेस्ट एक से पांच जुलाई के बीच एज़बेस्टन में खेला जाएगा।
webdunia

इंग्लैंड का सामना करेंगे तो काउंटी क्रिकेट में खेलने का फायदा मिलेगा: पुजारा

काउंटी क्रिकेट में सफलता के बाद एजबस्टन टेस्ट के लिए राष्ट्रीय टीम में वापसी करने वाले चेतेश्वर पुजारा ने कहा है कि जुलाई में इंग्लैंड के खिलाफ भारत जब एकमात्र टेस्ट के लिए उतरेगा तो उन्हें ससेक्स की ओर से काउंटी क्रिकेट खेलने का फायदा मिलेगा।

चौंतीस साल के पुजारा ने ससेक्स की ओर से डिवीजन दो के पांच मैच में दो दोहरे शतक और दो शतक की मदद से 720 रन बनाए जिसके बाद चयनकर्ताओं ने पिछले साल हुई टेस्ट श्रृंखला के बचे हुए ‘पांचवें’ टेस्ट के लिए उन्हें भारतीय टीम में जगह दी।पुजारा ने कहा, ‘‘मुझे खुशी है कि मुझे इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट के लिए चुना गया और हाल में काउंटी में मेरे प्रदर्शन पर गौर किया गया।’’

उन्होंने कहा, ‘‘काउंटी मुकाबलों के दौरान क्रीज पर समय बिताने के बाद मेरा मानना है कि मुझे इंग्लैंड के खिलाफ मुकाबले में इसका फायदा मिलेगा।’’

पुजारा ने कहा, ‘‘हमेशा की तरह दौरे से पहले अच्छी तैयारी और ट्रेनिंग को लेकर उत्सुक हूं तथा उम्मीद करता हूं कि भारतीय टीम में योगदान देना जारी रखूंगा।’’

भारतीय टीम में कोविड-19 महामारी के कारण पिछले साल स्थगित किया गया पांचवां टेस्ट बर्मिंघम में एक से पांच जुलाई तक खेला जाएगा।

पिछले कुछ समय में खराब फॉर्म के कारण पुजारा को इस साल की शुरुआत में श्रीलंका के खिलाफ भारत की घरेलू टेस्ट श्रृंखला के लिए टीम से बाहर कर दिया गया था लेकिन ससेक्स की ओर से शानदार प्रदर्शन करते हुए उन्होंने टीम में वापसी की।
webdunia

पुजारा ने डर्बीशर के खिलाफ नाबाद 201 रन बनाने के बाद वोरसेस्टरशर के खिलाफ 109 रन की पारी खेली। उन्होंने इसके बाद डरहम और मिडिलसेक्स के खिलाफ क्रमश: 203 और नाबाद 170 की पारी खेली।

रणजी ट्रॉफी में सौराष्ट्र की ओर से खेलते हुए पुजारा ने मुंबई के खिलाफ 91 जबकि गोवा के खिलाफ नाबाद 64 रन बनाए।पुजारा ने भारत की ओर से 95 टेस्ट में 43.87 की औसत से 6713 रन बनाए हैं।

इंग्लैंड के ख़िलाफ़ एकमात्र टेस्ट के लिए भारतीय दल- रोहित शर्मा (कप्तान), केएल राहुल (उपकप्तान), शुभमन गिल, विराट कोहली, श्रेयस अय्यर, हनुमा विहारी, चेतेश्वर पुजारा, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), केएस भरत (विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, रवि अश्विन, शार्दुल ठाकुर, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद सिराज, उमेश यादव, प्रसिद्ध कृष्णा

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

पहली बार IPL में रोहित शर्मा नहीं लगा पाए अर्धशतक, धोनी कोहली से भी बुरा रहा प्रदर्शन