Team india पर लगातार तीसरे मैच में लगा धीमे ओवर रेट का जुर्माना, फेंकी 24 वाइड

बुधवार, 5 फ़रवरी 2020 (19:21 IST)
हैमिल्टन। भारतीय टीम पर न्यूजीलैंड के खिलाफ बुधवार को पहले वनडे में मैच में धीमी ओवर रेट के लिए मैच फीस का 80 फीसदी जुर्माना लगाया गया है। इस धीमे ओवर रेट के लिए 24 वाइड जिम्मेदार रही, जो भारतीय गेंदबाजों ने इस मुकाबले में फेंकी। यह लगातार तीसरा मैच है, जिसमें टीम इंडिया पर धीमे ओवर रेट के लिए जुर्माना लगाया गया है। 
 
इससे पहले विराट कोहली की कप्तानी में हैमिल्टन में हुए चौथे टी-20 मुकाबले में टीम इंडिया पर 40 फीसदी और रोहित शर्मा की कप्तानी में पांचवें ट्वंटी-20 मुकाबले में 20 फीसदी का जुर्माना लगाया गया था।
 
अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) के मैच रेफरी क्रिस ब्रॉड ने भारतीय टीम पर मैच के दौरान निर्धारित समय में 4 ओवर कम फेंकने को लेकर जुर्माना लगाया गया है। मैदानी अंपायर शॉन हेग और लैंगटन रूसेरे, थर्ड अंपायर ब्रुस ओक्सेनफोर्ड और चौथे अंपायर क्रिस ब्राउन ने आरोप तय किए।
 
आईसीसी आचार संहिता की धारा 2.22 के तहत जुर्माना लगाया है, जिसके अनुसार प्रत्येक धीमे ओवर पर मैच फीस का 20 फीसदी जुर्माना लगाया जाता है। कप्तान विराट ने अपना दोष स्वीकर कर लिया, जिसके बाद मामले में औपचारिक सुनवाई की जरुरत नहीं पड़ी। 
 
भारत के इस मैच में धीमे ओवर रेट की सबसे बड़ी वजह 24 वाइड देना रही। भारत ने मुकाबले में 24 वाइड सहित 29 अतिरिक्त रन दिए। इन 24 वाइड को देखा जाए तो भारत ने 4 ओवर अतिरिक्त फेंके और यही उसके धीमे ओवर रेट तथा उस पर लगे जुर्माने का कारण बना।

इन 24 वाइड में 13 वाइड तो नंबर एक गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने फेंकी। भारत के वनडे इतिहास में सबसे अधिक वाइड फेंकने का यह पांचवां मौका है।
 
भारत ने 1999 में केन्या के खिलाफ ब्रिस्टल में 31 वाइड, 2004 में इंग्लैंड के खिलाफ ओवल में 28 वाइड, 2007 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मुंबई में 26 वाइड, 2007 में चेन्नई में वेस्टइंडीज के खिलाफ 25 वाइड और 2020 में हैमिल्टन में न्यूजीलैंड के खिलाफ 24 वाइड फेंकी।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख न्यूजीलैंड की सबसे बड़ी जीत, वनडे इतिहास में चौथी बार 300+ का लक्ष्य हासिल किया