Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

पुजारा ने इस तरह किया अश्विन का बचाव

हमें फॉलो करें webdunia
रविवार, 2 सितम्बर 2018 (16:27 IST)
साउथेम्पटन। भारतीय बल्लेबाल चेतेश्वर पुजारा ने इंग्लैंड के खिलाफ यहां खेले जा रहे चौथे टेस्ट मैच के तीसरे दिन स्पिनर रविचन्द्रन अश्विन की खराब गेंदबाजी आकड़ों का बचाव करते हुए कहा कि उन्होंने सही लाइन लैंथ से गेंदबाजी की लेकिन अपेक्षित सफलता नहीं मिली।
 
जोस बटलर की अर्द्धशतकीय पारी की बदौलत तीसरे दिन स्टंप तक अपनी बढ़त 233 रन की कर ली है और उसके 2 विकेट शेष हैं जिससे भारतीय टीम को चौथी पारी में मुश्किल लक्ष्य का पीछा करना होगा। इंग्लैंड के मोईन के 5 विकेट की तुलना में श्रृंखला में फॉर्म में चल रहे अश्विन शनिवार को ज्यादा प्रभाव नहीं छोड़ पाए और उन्होंने 35 ओवरों में 78 रन देकर 1 विकेट लिया।
 
पुजारा ने हालांकि टीम के अपने साथी का बचाव किया। उन्होंने कहा कि मुझे नहीं लगता कि उसके लिए यह बुरा दिन था। उसे ज्यादा विकेट नहीं मिले लेकिन उसने सही लाइन लेंथ से गेंदबाजी की। एक गेंदबाज के तौर पर कभी-कभी आपको ऐसे दिनों का सामना करना पड़ता है, जब आप अच्छी गेंदबाजी करते हैं लेकिन अधिक विकेट नहीं मिलते।
 
तमिलनाडु का यह गेंदबाज मोहम्मद शमी (53 रनों पर 3 विकेट), ईशांत शर्मा (36 रनों पर 2 विकेट) और जसप्रीत बुमराह (51 रनों पर 1 विकेट) के पैरों के निशान का फायदा नहीं उठा सका। उसे एकमात्र सफलता स्टोक्स के विकेट के रूप में मिली जिनका कैच अजिंक्य रहाणे ने पकड़ा।
 
पहली पारी में शतक लगाने वाले पुजारा ने कहा कि अश्विन होशियार गेंदबाज है, उसने हमारे लिए घरेलू सत्र और विदेशों में बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है इसलिए मुझे नहीं लगता कि उसने खराब गेंदबाजी की। हां, पिच काफी धीमी हो गई है और यह एक कारण हो सकता है कि वह जैसा चाहता था, वैसे नतीजे नहीं मिले।
 
पुजारा ने कहा कि जीत के लिए टीम को धीमी होती इस पिच पर अच्छी बल्लेबाजी करनी होगी खासकर मोईन अली के खिलाफ। उन्होंने हालांकि कहा कि यह पिच उपमहाद्वीप की पिचों की तरह हो गई है जिससे चौथी पारी में भारतीय टीम को फायदा हो सकता है।
 
उन्होंने कहा कि मुझे नहीं लगता कि यह हमारे लिए मुश्किल दिन था, पिच को देखें तो यह थोड़ी धीमी हो गई है। ऐसा लग रहा है कि बल्लेबाजी करना थोड़ा आसान है और हमें ऐसी स्थितियों में खेलने का अनुभव है। हमने पहली पारी में अच्छी तरह से शुरुआत की लेकिन बीच में बहुत सारे विकेट गंवा दिए, अगर अच्छी बल्लेबाजी की होती तो हमें 100 या 150 रन की बढ़त मिल सकती थी।
 
इंग्लैंड की टीम 5 मैचों की श्रृंखला में 2-1 से आगे है और श्रृंखला का आखिरी मैच लंदन के ओवल में खेला जाएगा। (भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

चौथे टेस्ट में इंग्लैंड का पलड़ा भारी, भारत का तीसरा विकेट भी गिरा