रिकी पोंटिंग बोले, टीम इंडिया में धोनी के बाद सबसे अच्छेे विकेट कीपर हैं ऋषभ पंत

शनिवार, 16 मार्च 2019 (15:46 IST)
नई दिल्ली। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज़ में अपने प्रदर्शन के बाद आलोचनाओं का शिकार हुए युवा विकेटकीपर ऋषभ पंत के बचाव में पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग उतर गए हैं जिन्होंने भारत की विश्वकप टीम में धोनी के बाद पंत को सर्वश्रेष्ठ कीपर बताया है।
 
इंडियन प्रीमियर लीग की टीम दिल्ली कैपिटल्स के प्रमुख कोच पोंटिंग ने कहा, 'यदि पंत हमारे लिए कुछ मैच जीत जाएंगे तो कोई भी उनकी पिछली विफलता को याद नहीं करेगा। मैं उनके अलावा किसी और को विश्वकप टीम में भारत के दूसरे सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर के रूप में नहीं देखता हूं।'
 
भारतीय टीम 30 मई से इंग्लैंड में शुरू होने वाले आईसीसी विश्वकप में प्रमुख दावेदार के रूप में उतरेगी। हालांकि टीम में विकेटकीपर के तौर पर धोनी के बाद दूसरे विकल्प को लेकर माथापच्ची जारी है। वनडे सीरीज़ में पंत की स्टम्प के पीछे विफलता के बाद यह दुविधा और बढ़ गई है।
 
37 वर्षीय पोंटिंग ने हालांकि पंत का भरपूर समर्थन करते हुए कहा है कि धोनी के बाद यदि दूसरा विकेटकीपर जो विश्वकप में भारतीय टीम की जिम्मेदारी निभा सकता है, वह पंत हैं। उन्होंने कहा कि पंत यदि आईपीएल में कुछ अच्छे मैच खेल लेंगे तो उनका आत्मविश्वास खुद ही बढ़ जाएगा और वह विश्वकप में भी अच्छा कर पाएंगे।
 
भारतीय बोर्ड ने विश्वकप के लिए अभी तक अपनी 15 सदस्यीय टीम का चुनाव नहीं किया है और दिल्ली कैपिटल्स के कोच ने अभी से आईसीसी टूर्नामेंट के लिए पंत को अपनी पसंद बता दिया है। उन्होंने कहा, 'मेरे लिए बतौर कोच यह बड़ी जिम्मेदारी है कि पंत अपने पिछले खराब प्रदर्शन को भूल सकें। अच्छा है कि उन्होंने आखिरी के मैच ही सीरीज़ में खेले क्योंकि लगातार दबाव में वह सभी पांचों मैच नहीं खेल पाते।'
 
पंत को धोनी के बाद भारतीय टीम का नया विकेटकीपर माना जा रहा है लेकिन दिल्ली के खिलाड़ी को सीमित ओवर प्रारूप में धोनी की मौजूदगी के कारण ज्यादा कुछ करने का मौका नहीं मिल सका है।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पांच मैचों की सीरीज के आखिरी मैचों में धोनी को आराम दिए जाने के बाद पंत को मौका मिला तो वह खुद को साबित नहीं कर सके और मोहाली वनडे में उनकी खराब स्टम्पिंग से टीम को हार झेलनी पड़ी। (वार्ता)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड के सचिव के पद पर प्रेम चंद लोचब नियुक्त