Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

BCCI ने कहा, पिता की बीमारी के कारण ऑस्ट्रेलिया नहीं गए रोहित, फिटनेस टेस्ट 11 को

webdunia
शुक्रवार, 27 नवंबर 2020 (14:18 IST)
सिडनी। रोहित शर्मा की चोट को लेकर तस्वीर साफ नहीं होने की कप्तान विराट कोहली की शिकायत के कुछ घंटों बाद ही भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने स्पष्टीकरण दिया है कि आईपीएल के बाद अपने पिता के बीमार होने के कारण रोहित ऑस्ट्रेलिया नहीं जा सके।
 
इसके अलावा बोर्ड ने यह भी कहा कि तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा 17 दिसंबर से शुरू हो रही टेस्ट श्रृंखला नहीं खेल सकेंगे, क्योंकि वे तब तक मैच फिट नहीं होंगे। बोर्ड ने कहा कि रोहित का फिटनेस टेस्ट 11 दिसंबर को होगा जिसके बाद उनके टेस्ट श्रृंखला खेलने को लेकर फैसला लिया जाएगा।
 
रोहित की फिटनेस पर सूचना के अभाव को लेकर कोहली के नाराजगी जताने के बाद बीसीसीआई सचिव जय शाह ने एक बयान में कहा कि रोहित शर्मा को आईपीएल के बाद मुंबई लौटना पड़ा, क्योंकि उनके पिता बीमार हैं। अब उनके पिता ठीक हो रहे हैं जिससे वे एनसीए आ सके हैं और उनका रिहैबिलिटेशन शुरू हो गया है। 
 
ऑस्ट्रेलिया में 14 दिन के क्वारंटाइन के नियम के कारण वे पहले 2 टेस्ट से बाहर रह सकते हैं। श्रृंखला एडिलेड में दिन-रात के मैच से शुरू होगी। रोहित को आईपीएल के दौरान हैमस्ट्रिंग चोट लगी थी। कोहली ने कहा कि उन्हें नहीं पता कि रोहित ऑस्ट्रेलिया में ही रिद्धिमान साहा के साथ रिहैबिलिटेशन क्यों नहीं कर रहे?
 
शाह ने कहा कि रोहित फिलहाल राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में हैं। उनका फिटनेस टेस्ट 11 दिसंबर को होगा। इसके बाद ही पता चलेगा कि वे ऑस्ट्रेलिया में बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी श्रृंखला में खेल सकेंगे या नहीं? समझा जाता है कि पूरी गलतफहमी बीसीसीआई की क्रिकेट परिचालन टीम की वजह से पैदा हुई।
 
यह भी पता चला है कि बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के सीईओ निक हॉकली से अनुरोध करेंगे कि अगर रोहित ऑस्ट्रेलिया जाता है तो उसे 14 दिन क्वारंटाइन के दौरान अभ्यास की अनुमति दी जाए। ईशांत के बारे में शाह ने कहा कि वह बाएं हाथ की चोट से पूरी तरह से उबर गया है लेकिन मैच फिटनेस हासिल करने में समय लगेगा। इसी वजह से वह टेस्ट श्रृंखला नहीं खेल पाएगा। (भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

सहवाग ने मैक्सवेल को कहा था 10 करोड़ की चियरलीडर, आज बांध रहे थे तारीफों के पुल