Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

क्रिकेटर ने BCCI सिलेक्टर्स पर लगाए सनसनीखेज आरोप, पूछा- कैसे होता टीम में चयन?

webdunia
बुधवार, 4 सितम्बर 2019 (12:00 IST)
बीसीसीआई (BCCI) के सिलेक्टर्स पर टीम चयन को लेकर उंगलियां उठती रही हैं। इस बार सौराष्ट्र के क्रिकेटर शेल्डन जैक्सन (sheldon jackson) ने टीम चयन को लेकर सनसनीखेज आरोप लगाए हैं।
 
शेल्डन जैक्सन ने ट्‍विटर पर चयनकर्ताओं पर टीम चयन को लेकर सवाल उठाया है। शेल्डन जैक्सन ने चयनकर्ताओं से पूछा है कि क्या राष्ट्रीय टीम में चयन के लिए रणजी ट्रॉफी का प्रदर्शन चयन का पैमाना नहीं रह गया है।
 
शेल्डन जैक्सन के इन ट्‍वीट्‍स के बाद सोशल मीडिया में घमासान मचा हुआ है। जैक्शन ने लिखा ट्‍वीट में लिखा है- सौराष्ट्र ने इस साल रणजी ट्रॉफी फाइनल खेला और उसके खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन किया। इसके बावजूद भारत ए टीम में एक भी खिलाड़ी का चयन नहीं किया गया।
क्या रणजी ट्रॉफी फाइनल खेलने का महत्व नहीं रह गया है। शेल्डन पूछा कि क्या छोटे राज्यों के खिलाड़ियों को गंभीरता से नहीं लिया जाता है क्योंकि पिछले पांच सालों में कोच सितांशु कोटक के मार्गदर्शन में टीम ने 3 फाइनल्स खेले, लेकिन उनके खिलाड़ियों को बेहतर प्रदर्शन के बावजूद योग्य अवसर नहीं मिल पाया है।
webdunia
शेल्डन इस बात को लेकर मायूस थे कि शानदार प्रदर्शन के बावजूद उन्हें या उनकी टीम के किसी भी खिलाड़ी को भारत ए टीम में भी जगह नहीं दी गई। इसी के चलते जैक्सन से चयनकर्ताओं पर सवाल उठाए हैं।
जैक्सन ने लिखा कि मुझे सवाल उठाने से मना किया गया था, लेकिन मेरा मानना है कि हम इस शानदार एसोसिएशन का प्रतिनिधित्व करते हैं और हमें यह जानने का हक है कि हमारे प्रदर्शन में कहां कमी रह गई। चयनकर्ताओं को चयन के मामले में पारदर्शिता रखनी चाहिए।
रणजी ट्रॉफी में टॉप स्कोरर थे शेल्डन : शेल्डन रणजी ट्रॉफी में सौराष्ट्र के टॉप स्कोरर थे। उन्होंने 11 मैचों में 47 से ज्यादा के औसत से 854 रन बनाए थे। उन्होंने इस दौरान 2 शतक और 7 अर्द्धशतक लगाए थे। अपनी टीम को फाइनल तक पहुंचाने में शेल्डन के प्रदर्शन का महत्वपूर्ण रोल था। शानदार प्रदर्शन के बाद भी शेल्डन को दुलीप ट्रॉफी की टीमों में नहीं चुना गया।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

US OPEN क्वार्टर फाइनल में रोजर फेडरर को ग्रेगॉर दिमित्रोव से मिली शिकस्त