Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

सिर्फ 1 टीम के खिलाफ ही शतक बना पाए हैं श्रेयस अय्यर, व्यक्त की निराशा

हमें फॉलो करें webdunia
सोमवार, 25 जुलाई 2022 (14:50 IST)
पोर्ट ऑफ स्पेन: भारतीय बल्लेबाज श्रेयस अय्यर वेस्टइंडीज के वर्तमान दौरे में शानदार फॉर्म में हैं लेकिन वह अपने अर्धशतकों को शतक में नहीं बदल पाने से निराश हैं।अय्यर ने दूसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए 71 गेंदों पर 63 रन बनाए और भारत की दो विकेट से रोमांचक जीत में अहम भूमिका निभाई।

उन्होंने संजू सैमसन के साथ चौथे विकेट के लिए 99 रन की साझेदारी की। सैमसन ने 54 रन बनाए जबकि बाद में अक्षर पटेल ने नाबाद 64 रन बनाकर भारत को लक्ष्य तक पहुंचाया।भारत की पहले वनडे में तीन रन से जीत में 54 रन बनाने वाले अय्यर ने कहा कि वह अगले मैच में शतक बनाने की कोशिश करेंगे।

अय्यर ने मैच के बाद कहा, ‘‘ मैंने आज जो स्कोर किया उससे मैं खुश हूं लेकिन जिस तरह से मैं आउट हुआ उससे नाखुश हूं। मुझे टीम को आसानी से लक्ष्य तक पहुंचाना चाहिए था। मैंने अच्छी शुरुआत की लेकिन दुर्भाग्यपूर्ण ढंग से अपना विकेट गंवाया। उम्मीद है कि अगले मैच में मैं इससे बेहतर प्रदर्शन करूंगा और शतक बनाने में सफल रहूंगा।’’

इस 27 वर्षीय बल्लेबाज को अफसोस है कि वह अब तक शतक नहीं जमा पाए हैं।उन्होंने कहा, ‘‘पिछली बार भी मेरा अच्छा कैच लपका गया था। निश्चित तौर पर मैं यह नहीं कहूंगा कि मैंने अपना विकेट आसानी से गंवाया लेकिन मुझे अपनी अच्छी शुरुआत को शतक में बदलना चाहिए था। पर मैं टीम की जीत में योगदान देकर खुश हूं।’’

webdunia

अय्यर ने कहा, ‘‘ यह वास्तव में अच्छा है कि मैंने लगातार दो मैचों में अर्धशतक जमाए लेकिन मुझे इन्हें शतक में तब्दील करना चाहिए था क्योंकि मैंने अच्छी शुरुआत की थी। आपको अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में इस तरह की शुरुआत हमेशा नहीं मिलती है तथा अधिक से अधिक अर्धशतक को शतक में बदलने से फायदा मिलता है। मेरे पास आज इसका अच्छा मौका था।’’

अय्यर ने कहा कि वह तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने का पूरा लुत्फ उठा रहे हैं।उन्होंने कहा, ‘‘यह बल्लेबाजी करने के लिए सर्वश्रेष्ठ स्थानों में से एक है। आपको मुश्किल परिस्थितियों में क्रीज पर उतरना पड़ सकता है। यदि विकेट जल्दी गिर गया तो आपको जल्दी क्रीज पर उतरना पड़ेगा और पारी संवारने की भूमिका निभानी पड़ेगी।’’
अय्यर ने कहा, ‘‘इसके साथ ही जब पहले विकेट के लिए अच्छी साझेदारी निभाई जाती है तो फिर आपको उसी को आगे बढ़ाना पड़ता है। मुझे तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए बड़ा आनंद आ रहा है।’’

उन्होंने अपनी शानदार फार्म का श्रेय कड़ी मेहनत को दिया।अय्यर ने कहा, ‘‘मुझे यह अच्छे परिणाम कड़ी मेहनत के कारण मिल रहे हैं। मैंने हाल में काफी कड़ी मेहनत की थी क्योंकि परिस्थितियां बदलती रहती है और आपको लगातार मैच खेलने पड़ते हैं। ऐसे में आपको हर तरह से फिट रहने की जरूरत होती है।’’
webdunia

सिर्फ एक ही टीम के खिलाफ बना पाए हैं शतक

किसी भी फैन को जानकर हैरानी होगी कि साल 2017 में वनडे डेब्यू करने वाले श्रेयस अय्यर सिर्फ 1 ही टीम के खिलाफ शतक बना पाए हैं। 2020 में न्यूजीलैंड के खिलाफ श्रेयस अय्यर ने 103 रन बनाए थे। इसके बाद टेस्ट में भी उन्होंने अपने पदार्पण में ही न्यूजीलैंड के खिलाफ शतक 2021 में जड़ा था।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

नस्लभेद में घिरा इस देश का क्रिकेट, बोर्ड के सभी सदस्यों ने दिया इस्तीफा