ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन बोले, DRS लेने का फैसला नहीं करना निराशाजनक

रविवार, 15 सितम्बर 2019 (13:06 IST)
लंदन। ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन ने स्वीकार किया कि 5वें एशेज टेस्ट में 2 बार डीआरएस (अंपायरों की समीक्षा प्रणाली) का इस्तेमाल नहीं करना निराशाजनक है, क्योंकि दोनों से ही उन्हें विकेट मिल सकते थे। इंग्लैंड की टीम श्रृंखला 2-2 से बराबर करने की कोशिश में है और अंतिम टेस्ट में 382 रनों की बढ़त बनाकर नियंत्रण बनाया है जबकि 2 दिन बाकी हैं और उसके दूसरी पारी में 2 विकेट भी बचे हैं।
ALSO READ: एशेज सीरीज : ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन को बेन स्टोक्स ने क्यों किया परेशान?
शनिवार को मैच के तीसरे दिन ओवल में पेन की गलतफहमी के कारण ऑस्ट्रेलियाई टीम को नुकसान ही हुआ। जो डेनली जब 54 रन पर थे, तब वे मिशेल मार्श की गेंद पर पगबाधा आउट होते लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने नॉट आउट के फैसले की समीक्षा नहीं करने का विकल्प चुना और उन्होंने 94 रन बनाए।
 
बाद में कप्तान और विकेटकीपर पेन ने जोस बटलर पगबाधा की अपील पर नॉट आउट के फैसले की समीक्षा नहीं कराने का फैसला किया जबकि रिप्ले में दिख रहा था कि नाथन लियोन की गेंद पर स्टंप हिट करती। बटलर तब 19 रन पर थे और उन्होंने 47 रन बनाए।
 
पेन ने कहा कि मैं फैसला नहीं कर पाया। पता नहीं और क्या कहूं? हमारे लिए यह दु:स्वप्न की तरह था। हमने गलत निर्णय लिया। उन्होंने कहा कि यह मुश्किल काम है, मैंने पूरी श्रृंखला के दौरान यही कहा है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख भारत-दक्षिण अफ्रीका T-20 मैच : धर्मशाला में छाए रहेंगे बादल, खूब बरसेंगे रन