विक्रम राठौड़ बनेंगे टीम इंडिया के बल्लेबाजी कोच, जानिए राठौड़ के बारे में

वेबदुनिया न्यूज डेस्क

गुरुवार, 22 अगस्त 2019 (21:23 IST)
नई दिल्ली। बीसीसीआई ने 2021 तक रवि शास्त्री को भारतीय क्रिकेट टीम का मुख्य कोच चुनने के बाद गुरुवार को टीम के सपोर्ट स्टाफ को भी शॉटलिस्ट कर दिया गया। संजय बांगड़ की जगह अब पूर्व भारतीय क्रिकेटर विक्रम राठौड़ को टीम इंडिया का नया बल्लेबाजी कोच नियुक्त किया जाना है। पूरी संभावाना है कि भरत अरुण गेंदबाजी कोच और आर.श्रीधर फील्डिंग कोच बने रहेंगे।
 
आज बीसीसीआई ने मुख्य कोच चुनने में इस्तेमाल की गई प्रक्रिया को ही अपनाया और टॉप-3 नतीजे घोषित किए। बल्लेबाजी कोच पद के लिए विक्रम राठौड़ पहले नंबर पर रहे, दूसरे नंबर पर संजय बांगड़ रहे और तीसरे स्थान पर मार्क रामप्रकाश रहे।
 
वहीं, गेंदबाजी कोच के चयन में शीर्ष पर भरत अरुण, दूसरे पायदान पर पारस माह्मब्रे और तीसरे स्थान पर पूर्व भारतीय गेंदबाजी कोच वेंकटेश प्रसाद रहे। बात करें फील्डिंग कोच की दौड़ में आर.श्रीधर शीर्ष पर रहे, दूसरे स्थान पर अभय शर्मा और तीसरे स्थान पर टी.दिलीप रहे।

बीसीसीआई की 5 सदस्यीय सीनियर चयन समिति ने टीम इंडिया के सपोर्ट स्टाफ के लिए उम्मीदवारों का साक्षात्कार किया। 5 सदस्यीय समिति में अध्यक्ष एमएसके प्रसाद, शरणदीप सिंह, गगन खोड़ा और जतिन परांजपे मौजूद थे जबकि देवांग गांधी विडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए इस बैठक से जुड़े थे।
 
समिति ने बल्लेबाजी कोच के लिए 14, गेंदबाजी कोच के लिए 12 और फील्डिंग कोच के लिए नौ उम्मीदवारों का साक्षात्कार लिया। इसके अलावा फिजियोथेरेपिस्ट के लिए 16, स्ट्रेंथ एंड कंडीशनिंग कोच के लिए 12 और प्रशासनिक मैनेजर के लिए 24 उम्मीदवारों का साक्षात्कार लिया। 
 
जानिए, कौन हैं विक्रम राठौड़ : विक्रम राठौड़ ने 1996 से 1997 के बीच भारत के लिए 6 टेस्ट और 7 वनडे मैच खेले। राठौड़ ने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर के दौरान 7 वनडे मैचों में 193 रन और 6 टेस्ट मैचों में 131 रन बनाए थे। 
 
अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में तो विक्रम राठौड़ ज्यादा सफल नहीं हुए लेकिन प्रथम श्रेणी क्रिकेट में उन्होंने 146 मैचों में 49.66 की औसत से 11473 रन बनाए। लिस्ट-ए क्रिकेट में उन्होंने 99 मैच खेलते हुए तकरीबन 3000 रन बनाए।
 
उन्होंने 2003 में क्रिकेट को अलविदा कहा था। पंजाब के इस पूर्व खिलाड़ी ने कुछ समय तक उड़ीसा में वाइजैग विक्टर्स टीम की कोचिंग भी की। अब देखना दिलचस्प होगा कि नए बल्लेबाजी कोच की नियुक्ति के बाद टीम इंडिया का प्रदर्शन कैसे रहता है।

वेस्टइंडीज दौरे पर वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के पहले टेस्ट के ठीक पूर्व कप्तान विराट कोहली ने गेंदबाजी पर खुशी और बल्लेबाजी पर नाराजगी जाहिर की थी।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख विराट कोहली अपने सबसे बड़े फैन से खुद की तारीफ सुनकर रोमांचित हुए, गर्व से फूल गया सीना