Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

फिर दिखेगी राहुल द्रविड़ औऱ लक्ष्मण की साझेदारी, इस बार कोचिंग में

आयरलैंड दौरे पर कोच द्रविड़ की जगह ले सकते हैं लक्ष्मण

हमें फॉलो करें webdunia
गुरुवार, 19 मई 2022 (16:58 IST)
मुम्बई:जून के अंत में होने वाले भारत के आयरलैंड दौरे पर टीम के प्रमुख कोच राहुल द्रविड़ भारतीय दल के साथ नहीं रहेंगे। वह उस समय भारतीय टेस्ट दल के साथ तैयारियों के लिए इंग्लैंड में रहेंगे। माना जा रहा है कि राष्ट्रीय क्रिकेट एकेडमी (एनसीए) के प्रमुख वीवीएस लक्ष्मण आयरलैंड जाने वाली टीम के साथ मुख्य कोच के रूप में जुड़ेंगे।

भारतीय टीम को 26 और 28 जून को आयरलैंड में दो टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैच की एक सीरीज़ खेलनी है। वहीं एक जुलाई को भारत को इंग्लैंड के ख़िलाफ़ बर्मिंघम में टेस्ट मैच खेलना है, जो कि पिछले साल बायो-बबल में कोरोना फैलने के कारण रद्द हो गया था। इस एकमात्र टेस्ट के बाद भारतीय टीम इंग्लैंड दौरे पर तीन टी20 और तीन वनडे मैचों की भी सीरीज़ खेलेगी।

लक्ष्मण के कोचिंग करियर की बात की जाए तो वह आईपीएल में सनराइज़र्स हैदराबाद और घरेलू क्रिकेट में बंगाल टीम के बल्लेबाज़ी सलाहकार रह चुके हैं। इस साल अंडर-19 विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम के भी प्रमुख प्रभारी लक्ष्मण ही थे।

उल्लेखनीय है कि तीन दिन के अंतराल में होने वाले दो अलग-अलग सीरीज़ के लिए भारतीय टीम दो अलग-अलग दल चुन सकती है। माना जा रहा है कि भारत के टेस्ट विशषज्ञ क्रिकेटर 15 जून को इंग्लैंड के लिए रवाना हो सकते हैं, जहां उन्हें 24 से 27 जून के बीच लीस्टशर के विरुद्ध एक चार दिवसीय अभ्यास मैच खेलना है। इसके बाद भारतीय टीम 2007 के बाद से इंग्लैंड में पहली टेस्ट सीरीज़ जीतने के इरादे से बर्मिंघम के पांचवें टेस्ट में उतरेगी।

गौरतलब है कि साल 2001 में भारत और ऑस्ट्रेलिया की टेस्ट सीरीज को ऐतिहासिक इन दोनों बल्लेबाजों की साझेदारी ने ही बनाया था। फॉलोऑन खेलते हुए भारत एक समय 254 पर चार विकेट गंवा चुका था लेकिन राहुल और लक्ष्मण ने ऐसी बल्लेबाजी की कि कंगारू पूरे दिन विकेट के लिए तरसते रह गए और स्कोर 589 पर 4 हो गया। इस376 रनों की साझेदारी ने भारतीय टीम में ऐसा जोश भरा कि 0-1 से पिछड़ने के बाद भी यह सीरीज भारत ने 2-1 से जीत ली।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

प्लेऑफ में जाने वाली दूसरी टीम बनी लखनऊ, सफलता के रहे यह 3 कारण