वीवीएस लक्ष्मण ने इन दोनों टीमों को बताया विश्व कप 2019 का प्रबल दावेदार, जानिए क्यों...

पूर्व भारतीय क्रिकेटर वीवीएस लक्ष्मण ने विश्व कप 2019 की जीत को लेकर एक बहुत बड़ा खुलासा किया है। उनका कहना है कि इस साल इंग्लैंड में होने वाले वर्ल्ड कप में भारत और इंग्लैंड दोनों ऐसी टीम हैं, जो यह कप जीतने का दमखम रखती हैं।

 
 
टीम इंडिया की कहानी लक्ष्मण की जुबानी : टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी वीवीएस लक्ष्मण ने हाल ही में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कप्तान विराट कहोली और भारतीय टीम की तारिफ करते हुए कहा कि ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड दौरे पर वनडे सीरीज में जिस फॉर्म के साथ टीम इंडिया ने वापसी कर जीत दिलाई थी, उससे  यह अनुमान लगाया जा सकता है कि इस साल होने वाले विश्व कप में भारतीय टीम दूसरी टीमों पर जमकर कहर बरपा सकती है। 
लक्ष्मण ने कहा, टीम सही समय पर फॉर्म में लौटी है, जो काफी महत्वपूर्ण है। भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अभी दो टी-20 और पांच वनडे मैचों की सीरीज खेलेगी, जिसका पहला टी-20 मैच 24 फरवरी को विशाखापत्‍तनम में और अंतिम वनडे मैच 13 मार्च को दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर खेला जाना है, जो कि इसकी विश्व कप से पहले की अंतिम सीरीज होगी। इसके बाद भारतीय टीम सीधे विश्व कप में नजर आएगी। 
 
वर्ल्ड कप के प्रारूप पर वीवीएस लक्ष्मण की राय : विश्व कप के प्रारूप को लेकर लक्ष्मण ने एक बहुत ही अच्छी बात कही है, उनका कहना है कि विश्व कप एक लंबा प्रारूप है जो कम से कम 30 से 35 दिनों तक चलता है। जिसमें हर टीमें कम से कम 3 से 4 मैच डेली खेलती है और इसीलिए हर खिलाड़ी को मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ रहना पड़ता है ताकि उसका बुरा प्रभाव उनकी बल्लेबाजी और गेंदबाजी पर नहीं पड़े। 
लक्ष्मण ने टी-20 टूर्नामेंट की तैयारियों के लिए टीम को दी बधाई : वीवीएस बंगाल टीम में बल्लेबाजी सलाहकार की भूमिका निभा रहे हैं और सैयद मुश्ताक अली टी-20 टूर्नामेंट की तैयारियों में लगे हैं। बंगाल टीम पिछले टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बनाने से चूक गई थी। भारत ने वनडे में ऑस्ट्रेलिया को 2-1 से और  न्यूजीलैंड को उनके घर में 4-1 से हराया था। इसी से खुश होकर लक्ष्मण ने पूरी टीम को बधाई दी। फोटो साभार फेसबुक और ट्विटर

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख राष्ट्रीय मास्टर्स टेबल-टेनिस में कर्नाटक, गुजरात, महाराष्ट्र चैम्पियन