विराट के रिकॉर्ड शतक के बावजूद हारा भारत, विंडीज की सीरीज में जबरदस्त वापसी

शनिवार, 27 अक्टूबर 2018 (21:50 IST)
पुणे। कप्तान विराट कोहली (107) के रिकॉर्ड शतक के बावजूद भारत को विंडीज के खिलाफ तीसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में शनिवार को 43 रनों से हार का सामना करना पड़ा। विंडीज ने यह मुकाबला जीतकर 5 मैचों की सीरीज में 1-1 की बराबरी कर ली है।
 
विंडीज ने युवा विकेटकीपर शाई होप 95 रन की एक और शानदार पारी की बदौलत 50 ओवरों में 9 विकेट पर 283 रन बनाए और फिर विराट की 38वीं शतकीय पारी के बावजूद भारत को 47.4 ओवरों में 240 रन पर निपटा दिया।
 
विराट को इस हार से काफी निराशा हुई होगी, क्योंकि उन्हें दूसरे छोर से साथ नहीं मिला। विराट का विकेट 42वें ओवर में 220 के स्कोर पर गिरा और इसके साथ ही भारत की उम्मीदें समाप्त हो गईं। विराट को ऑफ स्पिनर मार्लोन सैमुअल्स ने बोल्ड किया। विराट ने बैकफुट पर जाकर खेलने की कोशिश की लेकिन वे बोल्ड हो गए।
 
भारतीय कप्तान ने 119 गेंदों में 10 चौकों और 1 छक्के की मदद से 107 रन बनाए। विराट का यह कुल 38वां, लक्ष्य का पीछा करते हुए 23वां, लगातार 3रा और कुल 62वां अंतरराष्ट्रीय शतक था। विराट सीरीज में लगातार तीसरा शतक जमाकर यह उपलब्धि हासिल करने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बन गए। इस मामले में श्रीलंका के कुमार संगकारा लगातार 4 शतकों का विश्व रिकॉर्ड रखते हैं। विराट का यह कुल 62वां अंतरराष्ट्रीय शतक था और उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के जैक्स कैलिस की बराबरी कर ली है। उनसे आगे अब संगकारा 63, ऑस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग 71 और सचिन तेंदुलकर 100 हैं।
 
ओपनर रोहित शर्मा 8 का विकेट जल्दी गिरने के बाद शिखर धवन और विराट के बीच दूसरे विकेट के लिए 79 रनों की साझेदारी हुई। शिखर 45 गेंदों में 5 चौकों की मदद से 35 रन बनाकर एश्ले नर्स की गेंद पर पगबाधा हो गए।
 
विराट और अम्बाटी रायुडू (22) टीम के स्कोर को 135 तक ले गए लेकिन फिर रायुडू भी अपने कप्तान का साथ छोड़ गए। ऋषभ पंत 18 गेंदों में 3 चौकों और 1 छक्के की मदद से 24 रन बनाकर आउट हुए। पंत ने नर्स की वाइड गेंद पर स्वीप करने की कोशिश में विकेटकीपर को कैच  दे डाला।
 
भारत की ट्वंटी-20 टीम से बाहर किए गए महेंद्र सिंह धोनी 11 गेंदों में मात्र 7 रन बनाकर जैसन होल्डर की गेंद पर विकेटकीपर को कैच दे बैठे। भुवनेश्वर कुमार 17 गेंदों में 10 रन बनाकर आउट हुए। लगातार विकेट गिरने का असर कप्तान विराट पर नजर आया और वे अपना विकेट गंवा बैठे। इसके साथ ही भारत के हाथ से मैच निकल गया।
 
युजवेंद्र चहल 3 और खलील अहमद 3 रन बनाकर आउट हुए। कुलदीप यादव ने नाबाद 15 रन  बनाए। विंडीज की तरफ से होल्डर, ओबेद मैकॉय और नर्स ने 2-2 विकेट लिए जबकि सैमुअल्स ने भारतीय पारी की कमर तोड़ते हुए मात्र 12 रनों पर 3 विकेट झटक लिए। इस मुकाबले से  भारत की शीर्ष 3 बल्लेबाजों पर जरूरत से ज्यादा निर्भरता और मध्यक्रम की कमजोरी सामने आ गई जिस पर चौथे मैच से पहले गंभीरता से विचार कर लेना होगा।
 
इससे पहले होप लगातार दूसरे मैच में शतक बनाने से मात्र 5 रनों से चूक गए लेकिन उनकी पारी ने टीम को मजबूत स्कोर दे दिया। होप ने 113 गेंदों पर 95 रनों में 6 चौके और 3 छक्के लगाए। होप को यॉर्करमैन जसप्रीत बुमराह ने एक बेहतरीन यॉर्कर पर बोल्ड किया। पहले 2 मैचों में विश्राम पाने वाले बुमराह इस मैच में टीम में लौटे और 10 ओवरों में 35 रन देकर 4 विकेट लिए। बुमराह सबसे सफल भारतीय गेंदबाज रहे।
 
विंडीज ने एक समय अपने 5 विकेट मात्र 121 रन पर गंवा दिए थे और उसका 250 तक पहुंचना मुश्किल लग रहा था लेकिन होप की बेहतरीन पारी और निचले क्रम में कप्तान जैसन होल्डर, एश्ले नर्स और केमार रोच ने तेजतर्रार पारियां खेलकर विंडीज को लड़ने वाले स्कोर तक पहुंचा दिया।
 
होल्डर ने 39 गेंदों पर 32 रनों में 2 चौके और 1 छक्का लगाया। नर्स ने खतरनाक अंदाज में बल्लेबाजी करते हुए 22 गेंदों पर 40 रनों में 4 चौके और 2 छक्के उड़ाए। नर्स ने पारी के 49वें ओवर में भुवनेश्वर कुमार की गेंदों पर 1 छक्का और 3 चौके लगाते हुए 21 रन बटोरे। रोच ने नाबाद 15 रनों में 1 चौका और 1 छक्का लगाया।
 
बुमराह ने आखिरी ओवर में नियंत्रण दिखाया और विंडीज को लगातार तीसरे मैच में 300 से  ऊपर जाने से रोक दिया। बुमराह ने 35 रनों पर 4 विकेट लिए जबकि 'चाइनामैन' गेंदबाज कुलदीप यादव ने 52 रनों पर 2 विकेट लिए। भुवनेश्वर ने 70 रनों पर 1 विकेट, खलील अहमद ने 65 रनों पर 1 विकेट और युजवेंद्र चहल ने 56 रनों पर 1 विकेट लिया। (वार्ता)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख वेस्टइंडीज ने भारत को 43 रन से हराया