Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

इमरान खान की विदाई के बाद अब PCB प्रमुख रमीज राजा का कटने वाला है पत्ता, दे सकते हैं इस्तीफा

हमें फॉलो करें webdunia
सोमवार, 11 अप्रैल 2022 (14:40 IST)
कराची: पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) चेयरमैन रमीज राजा देश के प्रधानमंत्री पद से इमरान खान को हटाये जाने के बाद अपने पद से इस्तीफा देने पर विचार कर रहे हैं।

रमीज भी इमरान की तरह पाकिस्तान के पूर्व कप्तान हैं। वह इस समय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) बैठकों में हिस्सा लेने के लिये दुबई में हैं जो रविवार को समाप्त हुईं।

इसकी जानकारी रखने वाले एक सूत्र ने रविवार को कहा, ‘‘रमीज ने इमरान के जोर देने पर ही बोर्ड का चेयरमैन बनने पर सहमति जतायी थी क्योंकि उनकी कप्तानी में खेलने वाली सभी खिलाड़ी उनका काफी सम्मान करते हैं जिसमें रमीज भी शामिल हैं। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘रमीज का करियर कमेंटेटर, टीवी कमेंटेटर और विशेषज्ञ के तौर पर बहुत अच्छा चल रहा था और वह अपनी प्रतिबद्धताओं में व्यस्त थे। लेकिन इमरान के जोर देने पर ही उन्होंने सभी मीडिया करार तोड़ दिये और बोर्ड के चेयरमैन बन गये। ’’

सूत्र ने कहा, ‘‘रमीज ने इमरान को भी स्पष्ट कर दिया था कि वह तब तक ही बोर्ड चेयरमैन बने रहेंगे जब तक वह प्रधानमंत्री बने रहते हैं। ’’

सूत्र ने कहा कि इमरान को अब प्रधानमंत्री के तौर पर हटा दिया गया है जो बोर्ड का सरंक्षक भी होता है और वह आधिकारिक चयन प्रक्रिया के लिये चेयरमैन का नामांकन करता है तो इसकी संभावना नहीं के बराबर है कि रमीज इस पद पर बने रहें लेकिन अगर नये प्रधानमंत्री उन्हें इस पद पर बने रहने के लिये कहते हैं तो बात कुछ और होगी।
webdunia

रमीज राजा के 4 देशों के टूर्नामेंट के प्लान को भी किया ICC ने खारिज

बोर्ड की बैठक में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष रमीज की योजना को ज्यादा तवज्जो नहीं मिली। राजा ने आईसीसी के तत्वावधान में पाकिस्तान, भारत, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड को शामिल करते हुए चार देशों के वार्षिक टी20 या एकदिवसीय टूर्नामेंट के लिए श्वेत पत्र तैयार किया था। उनका मानना है कि इससे वैश्विक निकाय को पांच साल में 750 करोड़ डॉलर (लगभग 57 अरब रुपये) का राजस्व मिल सकता है, जिसका बड़ा हिस्सा इन चारों देशों को दिया जा सकता है ।

भारत, पाकिस्तान के खिलाफ सिर्फ एशिया कप और विश्व कप जैसे कई देशों वाले टूर्नामेंट में ही खेलता है।बोर्ड के एक सदस्य ने कहा, ‘‘  आईसीसी की वित्तीय और वाणिज्यिक मामलों की समिति (एफ एंड सीए) इस प्रस्ताव के खिलाफ थी। जैसा कि हम जानते हैं कि एमपीए (सदस्य भागीदारी समझौता) किसी भी सदस्य राष्ट्र को तीन देशों से अधिक की टूर्नामेंट की मेजबानी करने की अनुमति नहीं देता है। इस तरह की योजना से आईसीसी के प्रमुख टूर्नामेंटों (एकदिवसीय एवं टी20 विश्व कप) पर असर पड़ेगा।’’
webdunia

एक और संवेदनशील मुद्दा जिस पर बोर्ड के सदस्य दबे स्वर में बात कर रहे हैं, वह यह है कि क्या इमरान खान को प्रधानमंत्री पद से हटाए जाने के बाद रमीज लंबे समय तक पीसीबी अध्यक्ष बने रहेंगे।पीसीबी अध्यक्ष एक राजनीतिक नियुक्ति है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री हमेशा बोर्ड के मुख्य संरक्षक होते हैं। ऐसे में रमीज वर्तमान राजनीतिक माहौल में अपना इस्तीफा देने के लिए मजबूर हो सकते हैं।बीसीसीआई हमेशा अपने रुख में स्पष्ट था कि वह अपने व्यस्त कार्यक्रम में चार देशों के टूर्नामेंट में नहीं खेलेगा। उसका जोर द्विपक्षीय प्रतिबद्धताओं को पूरा करने पर है।

ऐसी खबरें थीं कि इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के टॉम हैरिसन भी स्वतंत्र रूप से चार देशों के टूर्नामेंट की योजना पर विचार करने के लिए तैयार थे लेकिन बोर्ड की बैठक में बात आगे नहीं बढ़ी।(भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

आज की ड्रीम टीम में शामिल कीजिए सिर्फ 1 कप्तान, ऑलराउंडर्स में तेवतिया को ना करें नजरअंदाज