चुनाव लड़ने के लिए उम्मीदवार ने चुनाव आयोग से मांगी किडनी बेचने की अनुमति

विकास सिंह

मंगलवार, 16 अप्रैल 2019 (07:56 IST)
भोपाल। लोकसभा चुनाव में उम्मीदवार अपने प्रचार के लिए कई तरह के हथकंडे अपनाते हैं। लेकिन मध्यप्रदेश के बालाघाट से निर्दलीय उम्मीदवार किशोर समरीते ने चुनाव लड़ने के लिए किडनी बेचने की अनुमति चुनाव आयोग से मांगी है।
 
आमतौर पर चुनाव में आयोग उम्मीदवारों के खर्च पर निगाह रखता है लेकिन बालाघाट के जिला निर्वाचन अधिकारी को लिखे पत्र में समरीते ने चुनाव आयोग से ही चुनाव लड़ने के लिए उलटे 75 लाख रुपए देने की मांग कर दी है और अगर आयोग उनको पैसा नहीं देता है तो खुद की एक किडनी बेचने की अनुमति आयोग से मांगी है।
 
समरीते का तर्क है कि जो पैसा उनको किडनी बेचसे मिलेगा उससे वो चुनाव लड़ेंगे..अपने पत्र में समरीते अपने खराब आर्थिक हालत का हवाला देते हुए कांग्रेस पर भी आरोप लगाते हैं।
 
वे कहते है कि उनके खिलाफ बालाघाट में दूसरे दलों के प्रत्याशी करोड़पति है और उनकी आर्थिक हालत बहुत मजबूत है। ऐसे में उनसे मुकाबला करने के लिए उनके पास पैसा नहीं है। समरीते कहते हैं कि आयोग ने लोकसभा चुनाव में उम्मीदवारों की खर्च सीमा जो 75 लाख तय की है। उसका प्रबंधन भी अब आयोग करें, नहीं तो उनको चुनाव लड़ने के लिए एक किडनी बेचने की अनुमति दे। इससे कि वो चुनाव लड़कर क्षेत्र की जनता को बेहतर नेतृत्व प्रदान कर सके।
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख तमिलनाडु की वेल्लोर सीट पर रद्द हो सकता है चुनाव, जानिए क्या है वजह