काशी में उमड़ा जनसैलाब, जानिए वाराणसी में पीएम नरेन्द्र मोदी के रोड शो की 15 खास बातें

गुरुवार, 25 अप्रैल 2019 (22:24 IST)
वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को अपने नामांकन से पहले वाराणसी में 7 किलोमीटर लंबा रोड शो किया। मोदी शुक्रवार सुबह 11 बजे नगर देवता कालभैरव के दर्शन-पूजन करेंगे। इसके बाद वे सुबह 11.30 बजे वाराणसी लोक सभा सीट से नामांकन दाखिल करेंगे। वाराणसी एवं पूर्वी उत्तर प्रदेश की 13 संसदीय क्षेत्रों और बिहार की उत्तर प्रदेश से सटी सीटों पर अंतिम चरण में 19 मई को मतदान होना है। पेश है मोदी के रोड शो की 15 खास बातें- 
 
1. काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार के पास पंडित मदनमोहन मालवीयजी की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के बाद लगभग 5 बजकर 20 मिनट पर अभूतपूर्व सुरक्षा के बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का रोड शो शुरू हुआ।
 
2. लंका चौराहे से गंगा के दशाश्वमेघ घाट तक एक भव्य रोड शो के माध्यम से अपना राजनीतिक एजेंडे के पेंच कस दिए। 
 
3. एक खुली गाड़ी में दो एसपीजी कमांडो के साथ मोदी सवार थे। उनकी गाड़ी के पीछे एक रथ में केंद्र सरकार के अनेक मंत्री एवं पार्टी के वरिष्ठ नेता सवार थे।
 
4. मोदी के रोड शो में न केवल काशी बल्कि आसपास के क्षेत्रों के लोग बड़ी संख्या में उमड़ पड़े। मोदी पर फूलवर्षा की गई।
 
5. रोड शो के अपराह्न 3 बजे शुरू होने की तैयारी थी, लेकिन प्रधानमंत्री करीब पौने दो घंटे के विलंब से वाराणसी पहुंचे।
 
6. प्रधानमंत्री के रोड शो के करीब 7 किलोमीटर लंबे रास्ते अच्छी तरह से सफाई एवं प्रकाश की व्यवस्था की गई थी। पूरे रास्ते को सजाया गया था। रास्ते में 101 जगहों पर उनके स्वागत के लिए समर्थक पलक पावड़े बिछाए हुए थे।
 
7. विभिन्न धर्म एवं संस्कृतियों का प्रदर्शन कर उत्सवी माहौल में ‘लघु भारत’ का नजारा दिखाने की कोशिश की गई थी।
8. लंका, संत रविदास द्वार मुमुक्षू भवन, असि, भदैनी, शिवाला, सोनारपुरा, मदनपुरा, जंगमबाड़ी, गोदौलिया एवं दशाश्वमेध घाट तक के रास्ते में गुजरे वाले रोड शो में हजारों लोग अपने पारंपरिक पोशाकें पहनकर सड़क के दोनों ओर खड़े थे। हजारों लोग अपने मकान की छतों एवं बरामदों पर खड़े होकर मोदी का अभिनंदन कर रहे थे।
 
9. वाराणसी के सांसद मोदी कभी हाथ जोड़कर तो कभी हाथ हिलाकर उनका अभिवादन स्वीकार कर रहे थे। रोड शो का रास्ता भाजपा के झंडों तथा श्री मोदी के पोस्टरों के पटा हुआ था। सजाने के लिए भाजपा के झंडा के रंग के गुब्बारों का भी इस्तेमाल किया गया।
 
10. रोड शो बुनकरों के पारंपरिक मुख्य रिहायशी इलाके एवं मुख्य बाजार, विश्व प्रसिद्ध श्री काशी विश्वनाथ मंदिर और शहर की घनी आबादी वाले इलाके से गुजरा।
 
11. भगवा कुर्ता पहने मोदी के स्वागत में हर हर महादेव और जय श्री राम के नारे लगाए गए। भारत माता की जय, वंदे मातरम के नारे के साथ तिरंगा भी फहराया जा रहा था।
12. गुलाब की पंखुड़ियों से नहाए मोदी सात बजकर 43 मिनट पर गंगा की आरती के लिए दशाश्वमेघ घाट पहुंचे जहां भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह, महासचिव अनिल जैन, उत्तर प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष महेंद्रनाथ पांडेय, प्रदेश संगठन महासचिव सुनील बंसल ने उनका स्वागत किया।
 
13. पंडितों ने नरेन्द्र मोदी चंदन को तिलक लगाया। मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ भी वहां उपस्थित थे। प्रधानमंत्री गंगा आरती के दौरान बहुत भावुक दिखाई दिए।
14.  सुरक्षा के लिए स्थानीय पुलिस के अलावा पीएसी, केंद्रीय अर्द्धसैनिक बलों के अलावा घाट पर एनडीआरएफ के जवान तैनात थे। सुरक्षा के लिए 10 हजार से अधिक जवानों को तैनात किया गया था।
 
15. कार्यक्रम के रास्ते एवं दशाश्वमेध घाट पर ड्रोन कैमरों की मदद से कड़ी सुरक्षा निगरानी की जा रही थी। रास्ते में पड़ने वाली अनेक ऊंची इमारतों पर सुरक्षा कर्मी तैनात किए गए थे। अत्याधुनिक हथियारों से लैस एक बख्तरबंद गाड़ी भी मौजूद थी, जो उनके काफिले के पीछे-पीछे चल रही थी।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख राष्ट्रीय पेंशन योजना (NPS) में फरवरी जुड़े में 66 हजार नए कर्मचारी, जानिए कैसे मिलता है इसका लाभ