मध्यप्रदेश में कोविड-19 से 2 और मरीजों की मौत के बाद मृतकों का आंकड़ा 13 पर पहुंचा, 215 संक्रमित

सोमवार, 6 अप्रैल 2020 (01:04 IST)
भोपाल/इंदौर। मध्यप्रदेश के इंदौर में रविवार को 2 और कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों के दम तोड़ने के बाद प्रदेश में इस महामारी से मरने वाले लोगों की तादाद बढ़कर 13 पर पहुंच गई है।
 
वहीं, भोपाल में कोरोना वायरस के 23 नए संक्रमितों सहित प्रदेश में आज 36 नए मामले आने के बाद प्रदेश में अभी तक कुल 215 मरीज कोविड-19 संक्रमित पाए गए हैं। यह पहला मामला है जब भोपाल में 24 घंटे में 23 लोग संक्रमित पााए गए हैं।
 
मध्य प्रदेश स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसारी मध्य प्रदेश में अब तक कुल 215 लोग कोरोना वायरस की महामारी से संक्रमित पाए गए हैं। इनमें से 13 मरीजों की अब तक मौत हो गई है। प्रदेश में कोविड-19 से दम तोड़ने वाले 13 मरीजों में इंदौर के 9, उज्जैन के 2 और खरगोन व छिंदवाड़ा का एक-एक मरीज शामिल हैं।
 
प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया, प्रदेश में आज 36 नए मरीज कोरोना वायरस संक्रमित पाए गए। इसी के साथ प्रदेश में रविवार रात तक कुल 215 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। प्रदेश में सबसे अधिक 135 मरीज इंदौर के हैं। 
 
इनके अलावा भोपाल में 40, मुरैना में 12, जबलपुर में आठ, उज्जैन में सात, खरगोन में चार, बड़वानी में तीन, शिवपुरी, छिंदवाड़ा एवं ग्वालियर में दो-दो मरीज कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। उन्होंने कहा कि इनमें से नौ मरीज अब तक स्वस्थ हो गए हैं। तीन मरीजों की स्थिति गंभीर बनी हुई है, जबकि 168 मरीजों की स्थिति स्थिर है।
 
इंदौर से मिली रिपोर्ट के अनुसार इंदौर में कोरोना वायरस से संक्रमित 53 वर्षीय महिला और 50 वर्षीय पुरुष की रविवार को मौत के बाद सूबे में इस महामारी से दम तोड़ने वाले मरीजों की तादाद बढ़कर 13 पर पहुंच गई है।
 
शासकीय महात्मा गांधी स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय के एक अधिकारी ने बताया कि 53 वर्षीय महिला ने मनोरमा राजे टीबी (एमआरटीबी) चिकित्सालय में आखिरी सांस ली। वह सांस लेने में तकलीफ, सर्दी और बुखार की शिकायत के साथ अस्पताल में भर्ती में हुई थी। उसे मधुमेह और अन्य बीमारियां भी थीं।
 
अधिकारी ने बताया कि 50 वर्षीय पुरुष ने शहर के एक निजी अस्पताल में आखिरी सांस ली। वह पिछले 10 दिन से सांस लेने में तकलीफ, खांसी और बुखार से परेशान था। वह उच्च रक्तचाप (हाइपरटेंशन) से भी पीड़ित था।
 
उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण के बाद दम तोड़ने वाले दोनों मरीजों ने पिछले दिनों कोई यात्रा नहीं की थी। अब तक इस बात का पता नहीं चल सका है कि वे किस कोरोना वायरस संक्रमित के मरीज के संपर्क में आए थे।
 
वहीं, मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में तबलीगी जमात के सदस्यों सहित 23 नए मरीजों के रविवार को कोविड-19 के लिए संक्रमित पाए जाने के बाद भोपाल में इस बीमारी की जद में आए कुल मरीजों की संख्या 40 हो गई है।
 
भोपाल जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया, भोपाल में रविवार को 23 और मरीज कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। इसी के साथ शहर में इस बीमारी के मरीजों की संख्या 40 पहुंच गई है। 
 
इनमें से एक पत्रकार एवं उसकी लंदन से आई बेटी ठीक होकर अपने घर चले गए हैं। उन्होंने कहा कि जो लोग आज संक्रमित पाए गए हैं, उनमें स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी और जमात के कार्यक्रम में भाग लेने वाले लोग हैं।
 
डेहरिया ने बताया, भोपाल में कम्युनिटी स्प्रेड जैसी कोई स्थिति नहीं है। इसी बीच, जनसंपर्क विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि आज आए 23 कोरोना वायरस संक्रमितों में से 12 लोग जमात के सदस्य हैं। उन्होंने कहा कि ए 12 लोग या तो दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में तबलीगी जमात में शामिल हुए थे या उनके संपर्क में आए थे।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख Corona Live Updates : दुनियाभर में 68 हजार से ज्यादा लोगों की मौत, 12 लाख से ज्यादा संक्रमित