भाजपा को बड़ा झटका, मध्यप्रदेश में टूट सकता है सरकार बनाने का सपना

विकास सिंह

बुधवार, 24 जुलाई 2019 (18:39 IST)
भोपाल। मध्य प्रदेश में हाईवोल्टेज सियासी ड्रामा में दो भाजपा विधायकों ने कमलनाथ सरकार को समर्थन दे दिया है। मैहर से भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी और शरद कौल ने सदन में आज पाला बदलते हुए कांग्रेस के पक्ष में मतदान कर दिया। इससे मध्यप्रदेश में भाजपा का सरकार बनाने का सपना टूट सकता है।
 
वहीं कमलनाथ सरकार को समर्थन देने के बाद भाजपा के दोनों विधयकों ने मीडिया से बातचीत में कांग्रेस के समर्थन में आने का ऐलान करते हुए कह दिया कि यह उनकी घर वापसी है।
 
मुख्यमंत्री कमलनाथ के साथ मीडिया के समाने आए भाजपा विधायक शरद कौल ने कहा कि यह हमारी घर वापसी हुई है और अपने क्षेत्र के विकास के लिए कमलनाथ सरकार के साथ आए हैं।
 
वहीं मैहर से भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी ने मुख्यमंत्री कमलनाथ की तारीफ करते हुए कहा कि आज प्रदेश में मुख्यमंत्री कमलनाथ की सरकार बहुत अच्छी तरह से चल रही है इसलिए वह मैहर के विकास के लिए कमलनाथ सरकार को अपना समर्थन दे रहे हैं।
 
वहीं मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इस पूरे सियासी घटनाक्रम के बाद कहा कि यह विधेयक पर मतदान नहीं बहुमत परीक्षण है।
 
क्या हुआ सदन में -दरअसल आज सदन में दंड संहिता संशोधन विधेयक के दौरान सत्ता पक्ष को समर्थन देने वाले बसपा विधायक संजीव सिंह ने मतदान की मांग कर दी है वहीं विपक्ष इस विधेयक को सर्वसम्मति से पास कराने पर अड़ा था लेकिन सत्ता पक्ष की मांग पर विधानसभा अध्यक्ष ने मतदान कर दिया जिसमें विधेयक के समर्थन में 122 वोट पड़े जिसमें भाजपा के दो विधायक नारायण त्रिपाठी और शरद कौल भी शामिल थे।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख आयरलैंड ने सनसनीखेज प्रदर्शन करके वर्ल्ड चैम्पियन इंग्लैंड को 85 रनों पर समेटा