Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

मध्यप्रदेश में कोरोना वैक्सीनेशन महाअभियान-2 का आगाज, राज्य टीकाकरण अधिकारी से जानें आपके हर सवाल का जवाब

webdunia
webdunia

विकास सिंह

बुधवार, 25 अगस्त 2021 (11:25 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश को कोरोना मुक्त बनाने के लिए और लोगों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिये आज से दो दिन के टीकाकरण महाअभियान-2 की शुरूआत हो रही है। प्रदेश में 24 अगस्त तक 4 करोड़ 2 लाख लोगों को वैक्सीन लग चुकी है,जबकि प्रदेश में 18 से अधिक आयुवर्ग के लिए 5.49 करोड़ लोगों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य रखा गया है।

जिसमें अबतक 61 फीसदी यानि 3.35 करोड़ लोगों को पहला डोज लग चुका है वहीं 65.93 लाख (12 प्रतिशत) लोगों को दूसरा डोज लगा है। जिसमें हेल्थकेयर वर्कर्स 8.93 लाख, फ्रंटलाईन वर्कर्स 9.50 लाख, 18 से 45 वर्ष के 2.11 करोड़ नागरिक, 45 से 60 वर्ष के 1.11 करोड़ नागरिक, 60 से अधिक आयु के 66.88 लाख नागरिकों का कोविड-19 टीकाकरण किया जा चुका है।
 
प्रदेश में कोरोना टीकाकरण महाअभियान को लेकर ‘वेबदुनिया’ ने राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉक्टर संतोष शुक्ला से खास बातचीत कर कोरोना वैक्सीनेशन को लोगों के सवाल के जवाब जानने की कोशिश की।  
 
1-वैक्सीनेशन महाअभियान में पहला डोज भी लगेगा?- ‘वेबदुनिया’ से बातचीत में राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉक्टर संतोष शुक्ला साफ कहते हैं कि महाअभियान के दोनों दिन कोरोना वैक्सीन का पहला और दूसरा डोज दोनों ही लगवाया जा सकेगा।

वह आगे कहते हैं कि महाअभियान में दूसरे डोज के लिए खास फोकस किया जा रहा है क्योंकि प्रदेश में 34 लाख ऐसे लोग है जो दूसरे डोज के लिए पात्र हो चुके है लेकिन जिन्होंने किन्हीं कारणों से अब तक वैक्सीन नहीं लगवाई है। वैक्सीनेशन महाअभियान में ऐसे लोगों पर खासा फोकस किया जा रहा है।
 
2-मेरा दूसरा डोज कब पूरा होगा? – कोवैक्सीन के पहले डोज के 28-42 दिन के बाद दूसरा डोज और कोविशील्ड वैक्सीने के पहले डोज के 84-112 दिन के बाद दूसरा डोज लगवाया जा सकता है।
 
3-क्या बिना स्लॉट बुक किए हो सकेगा वैक्सीनेशन?- ‘वेबदुनिया’ से बातचीत में डॉ. संतोष शुक्ला कहते हैं कि वैक्सीनेशन के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से रजिस्ट्रेशन होंगे। ऐसो लोग जो बिना ऑनलाइन स्लॉट बुक किए भी वैक्सीनेशन सेंटर पर अपने पहचान पत्र के साथ पहुंचेंगे उनका भी वैक्सीनेशन किया जाएगा। लोग अब व्हाट्सअप के जरिए भी अपना वैक्सीनेशन का स्लॉट बुक कर सकेंगे और वैक्सीन लगवा सकेंगे।  
 
4-वैक्सीनेशन के बाद अगर इमरजेंसी स्थिति आई तो क्या करें?- वैक्सीनेशन के बाद अगर कोई इमरजेंसी स्थिति आई तो लोगों की सहायता के लिये 24x7 टॉल फ्री नंबर 104 एवं 1075  उपलब्ध है। जिस पर टीकाकरण के बाद किसी भी इमरजेंसी सेवाल के लिए तत्काल संपर्क किया जा सकता है। डॉक्टर संतोष शुक्ला कहते हैं कि सभी नागरिकों से निवेदन है कि SMS- अर्थात सोशल डिस्टेंसिंग (2 गज की दूरी), मास्क (घर से घर तक), सेनेटाईजर (20 सेकेण्ड तक हाथ धोना) का पालन अवश्य करें।
 
5-कोरोना से बचने के लिए वैक्सीन कितना कारगर?- अब तक के आँकड़े बताते हैं कि जिन लोगों को कोरोना वैक्सीन का पहला डोज लग चुका था उनकी एंटीबॉडी (रोग प्रतिरोधक क्षमता) लगभग 40-60 प्रतिशत एवं जिनको दोनों डोज लग चुके हैं उनकी एंटीबॉडी 93 प्रतिशत के साथ अधिक मजबूत होना पाई गई है। आँकड़ों के अनुसार कोविड-19 के पूर्ण टीकाकरण अर्थात दोनों डोज के बाद नागरिकों में अस्पताल में भर्ती होने की दर में 95 प्रतिशत तथा संभावित मृत्यु दर में 98 प्रतिशत की गिरावट देखी गई है। 

कोरोना संक्रमण से सुरक्षा के लिए जरुरी है कि हर व्यक्ति का पूर्ण टीकाकरण हो। ऐसे लोग जिन्होंने केवल पहला डोज लगवाया है या जिन्होंने अब तक एक वैक्सीन नहीं लगवाई है ऐसे लोगों को कोरोना संक्रमण होने की संभावना अधिक है और वह गंभीर भी हो सकता है।
 
6-कितने केंद्रों पर होगा वैक्सीनेशन-कोरोना टीकाकरण अभियान को लेकर ‘वेबदुनिया’ ने राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉक्टर संतोष शुक्ला से खास बातचीत करते हुए कहा वैक्सीनेशन महाअभियान को लेकर आज प्रदेश में 8,811 हजार से अधिक केंद्रों पर टीकाकरण किया जाएगा।  आज पहले दिन से 20 से 25 लाख लोगों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य रखा गया है। 
 
वैक्सीनेशन महाअभियान को लेकर हर शहर में मोबाइल वैक्सीनेशन टीम की व्यवस्था की गई है। ''हम पहुंचेंगे उन तक जो न पहुंचे हम तक'' की थीम के साथ वैक्सीनेशन की मोबाइल टीम का गठन कर लोगों को वैक्सीनेट किया जाएगा। वहीं राजधानी भोपाल में चार केंद्रों पर 24 घंटे वैक्सीनेशन किया जाएगा। 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

कोबरा का सूप बनाना पड़ा महंगा, सांप ने लिया मौत का बदला!