हनुमानजी को लेकर की जा रही बयानबाजी से दिग्विजयसिंह नाराज, दिया यह बड़ा बयान

रविवार, 23 दिसंबर 2018 (12:54 IST)
इंदौर। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजयसिंह ने हनुमानजी को लेकर की जा रही बयानबाजी पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की। सिंह ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि हनुमानजी हमारे आराध्य देव है उनपर अनर्गल टिप्पणी करने वाले नेताओं पर अखाड़ा परिषद, विश्व हिंदू परिषद और आरएसएस को कार्यवाही कर इनका तिरस्कार करना चाहिए।
 
दिग्विजय ने कहा सरकार के कुछ दिनों के कार्यकाल में उन्होंने यह अंदाजा लगाया है की पिछली सरकार ने सरकारी मशीनरी का पूर्णता गलत इस्तेमाल किया। कांग्रेस नेता ने कहा कि पूर्व सरकार ने कलेक्टर-एसपी को 'दलाल' बना दिया था। प्रशासनिक तंत्र में सुधार सबसे पहली जरूरत है।
 
कांग्रेस नेता दिग्विजय ने कहा कि कांग्रेस के 10 साल की सरकार में कभी भी खाद की कमी नही आई। क्योंकि खाद की 5 महीने की आवश्यकता होती है और कांग्रेस सरकार उसको लेकर एडवांस स्टाक करती थी। भाजपा राज में 25 फीसदी खाद सहकारी संस्था को दी जा रही थी और शेष 75 प्रतिशत खाद का वितरण निजी हाथों में था।
 
गौरतलब है कि इन दिनों हनुमानजी की जाति बताने पर होड़ लगी हुई है। कोई उन्हें दलित बताता है, कोई उन्हें जाट बताता है। इतना ही नहीं, बुक्कल नवाब नाम के नेता ने तो हनुमान को मुसलमान होने का दावा कर दिया। 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख ट्रंप ने अधिकारियों से पूछा, क्या उन्हें फेडरल रिजर्व प्रमुख को हटाने का अधिकार है?