बाढ़ में फंसे लोगों के लिए देवदूत बनी एनडीआरएफ, बचाई 16 लोगों की जिंदगी

विशेष प्रतिनिधि

सोमवार, 29 जुलाई 2019 (08:24 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश के शाजापुर जिले की तहसील कालापीपल के गांव खोकरकलां में भारी बारिश के चलते और तालाब फूटने के चलते अचानक आई बाढ़ के चलते पूरा गांव लगभग 6 से 7 फुट पानी में डूब गया।
 
गांव के लोगों ने घरों की छतों और ऊंचे स्थानों पर पहुंचकर अपनी जान बचाई। लोगों को सुरक्षित रेस्कयू करने के लिए जिला प्रशासन ने भोपाल स्थित एनडीआरएफ टीम को राहत बचाव कार्य के लिए तत्काल बुलाया।
 
प्रशासन की सूचना पर भोपाल से एनडीआरएफ की 30 सदस्यीय टीम असीम उपाध्याय, डिप्टी कमांडेंट के नेतृत्व में कालापीपल में घटनास्थल पर पहुंची और गोताखोरों व रेस्क्यू बोट्स के सहारे राहत एवं बचाव कार्य शुरू कर 8 पुरुष, 2 महिलाएं और 6 बच्चों सहित कुल 16 लोगों को बाढ़ क्षेत्र से बाहर निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया।
बाढ़ में फंसे लोगों के लिए आशा की किरण बन के पहुंची एनडीआरएफ की टीम के कमांडर असीम उपाध्याय ने बताया कि तेज़ बारिश के चलते कुछ समय बाद स्थिति और भी ख़राब हो सकती थी, लेकिन जिला प्रशासन ने बिना समय गंवाए सूचना दी जिसके चलते एनडीआरएफ टीम ने समय पर पहुंचकर सभी 16 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया।
 
मध्यप्रदेश में लगातार बारिश के चलते शाजापुर, उज्जैन सहित करीब दर्जन भर जिलों में नदियां उफान पर हैं जिससे कई इलाके पानी से भी घिर गए हैं और लोग सुरक्षित स्थान के ओर पलायन कर रहे हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख उन्नाव रेप केस : पीड़िता का एक्सीडेंट, गंभीर रूप से घायल, मां-चाची की मौत