शिवराज की लंच पॉलिटिक्स, निशाने पर कमलनाथ सरकार

भोपाल। मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान काफी सक्रिय हैं। चौहान कार्यकर्ताओं और जनता से सीधा संवाद कर रहे हैं। 
 
लोकसभा चुनाव से पहले कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाने के लिए भोपाल में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ लंच कर उनसे पार्टी का फीडबैक ले रहे हैं। लोकसभा चुनाव के लिए नई व्यूह रचना तैयार करने के लिए पार्टी कार्यकर्ताओं को नए सिरे से तैयार कर रही है।
 
इस मौके पर शिवराज ने कमलनाथ सरकार को लंगड़ी बताते हुए कहा कि चुनाव के बाद बीजेपी भी चाहती तो सरकार बना सकती थी, लेकिन हम प्रदेश अपने बल पर पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाएंगे। चौहान ने वंदेमातरम् पर सीधे मुख्यमंत्री कमलनाथ को घेरते हुए कहा कि वंदेमातरम् पर रोक लगाने से कांग्रेस सरकार का असली चेहरा सामने आया है।
 
उन्होंने कहा कि भाजपा के दबाव के बाद कांग्रेस सरकार ने वंदेमातरम् को लेकर अपना फैसला पलटा। इसे शिवराज ने प्रदेश की जनता की जीत बताया, वहीं नेता प्रतिपक्ष को लेकर चौहान ने कहा कि मुझे किसी पद की जरूरत नहीं है और न ही वो नेता प्रतिपक्ष बनने की दौड़ में हैं। इससे पहले कार्यक्रम में पहुंचने पर बीजेपी कार्यकर्ताओं और नेताओं ने चौहान का स्वागत किया।
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING