मध्यप्रदेश में दिग्विजय युग की हो रही वापसी, गोपाल भार्गव का कमलनाथ सरकार पर बड़ा हमला

भोपाल। नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कमलनाथ सरकार पर बड़ा हमला बोला है। गोपाल भार्गव का कहना है कि मुख्यमंत्री कमलनाथ प्रदेश को पंद्रह साल पहले के दिग्विजय युग में ले जा रहे हैं। नेता प्रतिपक्ष का आरोप है कि बीजेपी सरकार के 15 वर्षों में एक बार भी ऐसा मौका नहीं आया कि जब सरकारी कर्मचारियों को समय पर वेतन न मिला हो, लेकिन कांग्रेस सरकार आते ही प्रदेश के कई सरकारी विभागों के कर्मचारियों का वेतन अटक गया है। इससे ये पता चलता है कि मुख्यमंत्री कमलनाथ मध्यप्रदेश को दिग्विजय युग में ले जा रहे हैं।


गोपाल भार्गव का आरोप है कि दिग्विजय युग में भी कर्मचारियों को वेतन के लाले पड़ते थे ओर यही हाल अब प्रदेश का फिर हो रहा है। नेता प्रतिपक्ष का आरोप है कि कांग्रेस की सरकार बनने के बाद गैस राहत अस्पताल के डॉक्टरो और होमगार्ड के 14 हजार कर्मचारियों को वेतन नहीं मिला है।

नेता प्रतिपक्ष ने कमलनाथ सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि कर्मचारियों को वेतन न मिलना, किसानों को समय पर खाद न मिलना, किसानों को पाला का मुआवजा न मिलना और कर्जमाफी के नाम पर किसानों को सिर्फ आश्वासन का मिलना, कानून व्यवस्था का ध्वस्त होना बंटाधार युग की पुनरावृत्ति को दर्शाता है।

उन्होंने ने कहा कि कहावत है कि पूत के लक्षण पालने में ही दिख जाते हैं। जिस दिन से कांग्रेस सत्ता में आई है तभी से अपराधियों के हौसले बुलंद हैं। कमलनाथ सरकार के निर्णय यह दर्शाते हैं कि आने वाले दिनों में प्रदेश फिर से 15 वर्ष पूर्व के अंधकार युग में जाने को तैयार है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख स्मृति ईरानी का बड़ा बयान, पीएम मोदी जिस दिन लेंगे संन्यास, मैं भी राजनीति को कह दूंगी अलविदा