Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

उज्जैन में लगे राष्ट्रविरोधी नारे, सीएम ने जताया कड़ा विरोध, 7 गिरफ्तार

हमें फॉलो करें webdunia
शनिवार, 21 अगस्त 2021 (09:30 IST)
उज्जैन/भोपाल। मध्यप्रदेश के उज्जैन जिले के एक मोहल्ले में कथित रूप से पाकिस्तान जिंदाबाद सहित राष्ट्रविरोधी नारे लगाने के आरोप में पुलिस ने 7 लोगों को गिरफ्तार किया है, वहीं राष्ट्रविरोधी नारे लगने की घटना पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है।

 
मुख्यमंत्री चौहान ने भोपाल में शुक्रवार को मीडिया से कहा कि मैं केवल इतना कहना चाहता हूं कि उज्जैन में जो घटना हुई है, उस पर हमने सख्त रुख अपनाया है। लोग गिरफ्तार किए गए। तालिबानी मानसिकता किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी और सभी आवश्यक कदम उठाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि भारत का हर नागरिक देशभक्त है, अपवाद छोड़ दें तो। लेकिन जो तालिबानी मानसिकता का समर्थन करेगा या राष्ट्रविरोधी गतिविधि करने का प्रयास करेगा, उसको कुचल दिया जाएगा।

 
इसी बीच उज्जैन के पुलिस अधीक्षक (एसपी) सत्येन्द्र शुक्ला ने शुक्रवार को फोन पर कहा कि इस सिलसिले में शुक्रवार देर रात से अब तक हमने 7 लोगों को गिरफ्तार किया है जबकि भादंवि की विभिन्न धाराओं में 10 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। उन्होंने बताया कि मुहर्रम के मौके पर गुरुवार की रात गीता कॉलोनी में आयोजित एक धार्मिक कार्यक्रम में करीब 10 लोगों ने कथित रूप से 3 बार पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगाया। शुक्ला ने कहा कि मौके पर मौजूद पुलिस दल ने इस घटना पर कार्रवाई की।
 
यह पूछने पर कि क्या महामारी के कारण जिला प्रशासन द्वारा सार्वजनिक जुलूस पर प्रतिबंध लगाए जाने के विरोध में यह नारेबाजी की गई है? तो इस पर एसपी ने कहा कि नहीं, ऐसा नहीं था। उन्होंने कहा कि हमने कार्यक्रम आयोजकों से पहले ही बात कर ली थी। वे सभी मुहर्रम के मौके पर जुलूस नहीं निकालने पर सहमत थे। उन्होंने कहा कि कारणों की जांच की जा रही है। शहर के जीवाजीगंज थाने के प्रवक्ता ने कहा कि आरोपियों के खिलाफ भादंवि की धारा 124 (ए) (देशद्रोह), 153 (दंगे के लिए उकसाने हेतु) और 188 (लोक सेवक के आदेश की अवज्ञा) के तहत मामला दर्ज किया गया है।(भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

रो खन्ना बोले, तालिबान रोकने में अब और भी महत्वपूर्ण है भारत-अमेरिका साझेदारी