मध्यप्रदेश में मॉब‍ लिंचिंग : नीमच में मोर चोरी के आरोप में भीड़ ने बुजुर्ग को पीट-पीटकर मार डाला

नीमच में बीते 2 दिनों में मॉब लिंचिंग की दूसरी बड़ी घटना हुई है, जिसमें मोर चोरी के आरोप में ग्रामीणों ने एक बुजुर्ग को पीट-पीटकर मार डाला घटना कुकड़ेश्वर थाना क्षेत्र के लसूड़ी आंतरी गांव की है। एक दिन पहले ही बकरा चोरी के मामले में 3 युवकों की जनता ने पिटाई की थी।

इस संबंध में एसपी नीमच राकेश कुमार सगर के अनुसार, बीती रात नीमच जिला मुख्यालय से करीब 40 किलोमीटर दूर कुकड़ेश्वर थाना क्षेत्र के गांव लसूड़ी आंतरी में मोर चोरी के आरोप में ग्रामीणों ने इसी गांव के हीरालाल बांछड़ा की हत्या कर दी। एसपी सगर ने बताया कि जब 4 लोग मोर चुराकर भाग रहे थे, तब ग्रामीणों को अंदेशा हुआ कि ये चोर हैं और गांव में चोरी की वारदात करने आए हैं।

इस पर ग्रामीणों ने चोर समझकर उन्हें पकड़ना चाहा, जिसमें से 3 लोग मौके से भाग गए और उसमें से एक हीरालाल ग्रामीणों के हाथ लग गया जिसकी ग्रामीणों ने पिटाई कर दी। उसके बाद ग्रामीणों ने डायल 100 को बुलाया और उसे अस्पताल रेफर किया जहां उसकी मौत हो गई। एसपी सगर के अनुसार, गांव में चोरी की वारदात के अंदेशे में यह हत्या हुई है। मृतक हीरालाल के पास मरे हुए 4 मोर भी मिले हैं।

एसपी सगर ने बताया कि पुलिस ने हीरालाल की हत्या के मामले में 10 आरोपियों अंबालाल पिता गोपाल गुर्जर, घनश्याम रामनारायण गुर्जर, रामदयाल कारूलाल गुर्जर, शिवनारायण रामेश्वर गुर्जर, विक्रम बगदीराम गुर्जर, विक्रम बाबूलाल गुर्जर, मुकेश गोपाल गुर्जर, गोरधन रामनारायण गुर्जर, लसूड़िया आंतरी, रामसिंह कारूलाल नलवा, अम्बालाल रूगनाथ सभी निवासी नलवा के खिलाफ धारा 149, 506, 307, 302 के तहत मामला दर्ज कर लिया है, जबकि 9 आरोपियों की गिरफ्तारी की जा चुकी है। इस गिरफ्तारी में पुलिस की 6 टीमें लगी थीं।

एसपी सगर ने बताया कि पुलिस ने मोर चोरी के मामले में 4 आरोपियों के खिलाफ धारा 379 और वन्य प्राणी अधिनियम के तहत भी मामला दर्ज कर लिया है। गौरतलब है कि नीमच में पिछले 2 दिनों में मॉब लिंचिंग की यह दूसरी घटना है। एक दिन पूर्व बकरा चुराने के आरोप में 3 युवकों की पिटाई ग्रामीणों द्वारा की गई थी, जिसमें बकरा चुराने वाले युवकों की मोटरसाइकल में भी आग लगा दी गई थी। उस मामले में भी पुलिस ने सभी 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख सोनभद्र हत्याकांड : पीड़ित परिवारों के 12 सदस्यों ने की प्रियंका से मुलाकात