Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

अमृत सिद्धि शुभ योग में मनेगी संक्रांति, जानिए क्या नाम है इस बार की संक्रांति का, किस वाहन पर आ रही है...

webdunia
अमृत सिद्धि शुभ योग में मनेगी संक्रांति,
जानिए क्या नाम है इस बार की संक्रांति का,
किस वाहन पर आ रही है... 
 
 
जनवरी 2019 में आने वाला संक्रांति पर्व इस बार 2 दिन मनाया जाएगा। इस बार संक्रांति का वाहन सिंह है और उपवाहन गज यानी हाथी है। इसलिए साल भर काम की अधिकता, गतिशीलता, राजनीतिक परिवर्तन, आर्थिक स्थिति में परेशानी जैसे कईं प्रभाव देखने को मिलेंगे। इस बार मकर संक्रांति का नाम ध्वंक्षी है। 
 
यह संक्रांति श्वेत वस्त्र धारण किए स्वर्ण-पात्र में अन्न ग्रहण करते हुए कुंकुम का लेप किए हुए उत्तर दिशा की ओर जाती हुई आ रही है।
 
सूर्य के मकर राशि में जाने पर मकर संक्रांति पर्व मनाया जाता है। इस बार 14 जनवरी की शाम 07.51 पर सूर्य मकर राशि में प्रवेश करेगा। इसलिए स्नान व दान का महत्व 15 जनवरी को माना जाएगा। उदयकाल यानी सूर्योदय के समय में तिथि होने की मान्यता के अनुसार, पर्व काल 15 जनवरी को मनाया जाएगा।
 
इस बार पौष मास की शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि पर सोमवार को रेवती नक्षत्र की साक्षी में मकर संक्रांति का पर्व मनाया जाएगा। मकर राशि में प्रवेश करते ही सूर्य उत्तरायण हो जाएगा। 15 जनवरी को सुबह से ही अमृत सिद्धि योग है। इस योग में किया गया दान-पुण्य अमृत के समान होता है।
 
संक्रांति पर्व काल में चांदी या तांबे के कलश में सफेद या काली तिल्ली भरकर ब्राह्मण को दान करें। सफेद धान, चावल, आटा, चांदी, दूध, माला, रवा, खिचड़ी, गुड़, नारियल, कपड़ा दान करें। स्नान के पानी में तिल मिलाएं।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

इस बार क्यों है 15 को संक्रांति? जानिए शास्त्र सम्मत कारण