MP Election : भाजपा ने खोला नए वादों का पिटारा, जेटली ने जारी किया घोषणा पत्र

शनिवार, 17 नवंबर 2018 (11:31 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव के लिए तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। इसी बीच भारतीय जनता पार्टी ने आज अपना चुनावी घोषणा पत्र जारी कर दिया। वित्तमंत्री अरुण जेटली ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत बीजेपी के बड़े नेताओं की उपस्थिति में घोषणा पत्र जारी किया। घोषणा पत्र में महिलाओं, युवा, किसान समेत हर वर्ग का ध्यान रखने की बात कही गई है।


*इसके अलावा व्यापारी कल्याण कोष की स्थापना करने का भी लक्ष्य रखा गया है।
*सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि राज्य में नए इंडस्ट्रियल टाउनशिप स्थापित किया जाएगा। 
*12वीं में 75% अंक लाने वाली छात्राओं को मिलेगी स्कूटी।
*स्कूली छात्राओं को मुफ्त सफर की सौगात।
*महिला भूमिधारकों के लिए आर्थिक सहायता सीधे बैंक से।
* हर साल 10 लाख रोजगार के अवसर पैदा कराने का वादा।

ALSO READ: मध्यप्रदेश में भाजपा के चुनावी घोषणा पत्र की प्रमुख बातें...
*स्वसहायता महिला समूहों को आंदोलन का रूप दिया जाएगा।
*नारी शक्ति संकल्प पत्र अलग से जारी।
*छोटे किसानों को कृषक समृद्धि योजना का फायदा मिलेगा।
*किसानों का बोनस उनके खाते में सीधे जमा होगा।
*नर्मदा एक्सप्रेसवे और चंबल एक्सप्रेसवे बनाएंगे।
*कृषि सिंचाई व्यवस्था 41 लाख हेक्टेयर से बढ़ाकर 80 लाख हेक्टेयर तक ले जाएंगे।
*नर्मदा और मालवा के सभी प्रोजेक्ट पूरे होंगे।
* स्मार्ट विलेज परियोजनाओं की घोषणा।
* शहरों का रूप बदलने के लिए अगले पांच साल में 2 लाख करोड़ खर्च।
*बिजली क्षमता 14 हजार मेगावॉट तक बढ़ाएंगे।
*पिछली सरकार के समय जिन योजनाओं से गरीबों को फायदा हुआ है उन्हें जारी रखा जाएगा। 
*मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा कि भाजपा समय आने पर आवश्यकता के अनुसार नई योजनाएं शामिल करती रहेगी।

अपने चुनावी भाषणों में सीएम शिवराज सिंह चौहान लगातार विकास के एजेंडे पर जोर दे रहे हैं। माना जा रहा है कि इस बार के घोषणा पत्र में भाजपा ने विकास, महिला और बेटी सुरक्षा, युवा, किसान जैसे मुद्दों पर फोकस किया है।
सीएम शिवराज सिंह चौहान घोषणा पत्र जारी करने के बाद नीमच और मंदसौर में रैलियां करेंगे। उल्लेखनीय है कि पिछले साल मंदसौर किसानों के आंदोलन का केंद्र बन गया था। तब यहां कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी आए थे। लिहाजा भाजपा किसानों की मांगों को लेकर काफी सजग है। भाजपा ने इस इलाके में चुनाव प्रचार के आखिरी चरण में पीएम मोदी की ताबड़तोड़ रैलियों का खाका तैयार किया है। भाजपा का मानना है कि पीएम मोदी किसानों का मिजाज भाजपा की ओर मोड़ने में सफल होंगे।
 
 
गुरुवार को एक चुनावी सभा में शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा कि इस पार्टी ने राज्य को बर्बाद कर दिया था। शिवराज ने दावा किया कि उन्होंने इसे बड़े परिश्रम से बीमारू से विकासशील और उसके बाद विकसित राज्य बनाया है। शिवराज ने कहा कि कांग्रेस किसान, गरीब, तरक्की की विरोधी है, यदि यह प्रदेश गलती से भी उनके हाथ लगा, तो वे इसे फिर से बर्बाद कर देंगे।
 
बता दें कि मध्य प्रदेश में एक ही चरण में 28 नवंबर को मतदान है। वोटों की गिनती 11 दिसंबर को होगी। मध्य प्रदेश के 53 जिलों में विधानसभा की 230 सीटें हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख सपा-बसपा का गठबंधन लगभग तय, मायावती बोलीं- कांग्रेस और भाजपा, सांपनाथ और नागनाथ