मध्यप्रदेश : इन मंत्रियों और दिग्गज नेताओं को करना पड़ा हार का सामना

बुधवार, 12 दिसंबर 2018 (14:20 IST)
मध्यप्रदेश में कांग्रेस ने सरकार बनाने का दावा पेश‍ किया है। मध्यप्रदेश में कांग्रेस ने 114 सीटों पर जीत हासिल की है। कांग्रेस ने दावा किया है कि उसने सरकार बनाने के लिए 122 विधायकों की सूची राज्यपाल को सौंपी है। वहीं दूसरी ओर 15 साल से सत्ता पर काबिज भाजपा की सरकार 109 सीटों पर सिमटकर रह गई है।


इन चुनावों में भाजपा के बड़े मंत्रियों और नेताओं को हार का मुंह देखना पड़ा है। एक नजर उन खास सीटों पर जिन पर दोनों ही पार्टियों के दिग्गज हारे। चुनाव के नतीजों में राज्य के लगभग एक दर्जन मंत्री और कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं को भी हार का सामना करना पड़ा है। इनमें विधानसभा में विपक्ष के नेता अजय सिंह (चुरहट), पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी (भोजपुर) और विधानसभा उपाध्यक्ष एवं कांग्रेस नेता राजेंद्र कुमार सिंह (अमरपाटन) शामिल हैं।

भाजपा के पराजित मंत्रियों में ओमप्रकाश धुर्वे, अंतर सिंह आर्य, दीपक जोशी, अर्चना चिटनीस, ललिता यादव, बालकृष्ण पाटीदार, लाल सिंह आर्य, उमाशंकर गुप्ता, रुस्तम सिंह, जयभान सिंह पवैया, नारायण सिंह कुशवाह, जयंत मलैया और शरद जैन शामिल हैं।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह अपने परंपरागत बुधनी विधानसभा क्षेत्र से 55 हजार से अधिक मतों से विजयी रहे। जबकि पिछली बार उनकी जीत का अंतर 80 हजार से अधिक वोट था।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख मध्यप्रदेश की वे 5 सीटें, जिन्होंने रोक दी थीं नेताओं की सांसें...