मध्यप्रदेश की दस हाई प्रोफाइल सीट, यहां पर दिग्गजों में होगा 'महामुकाबला'

विशेष प्रतिनिधि

मंगलवार, 27 नवंबर 2018 (21:01 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश में चुनावी मुकाबले में इस बार बीजेपी और कांग्रेस के बीच कांटे का मुकाबला है। सूबे में दस सीट ऐसी है जिस पर इस बार हाई प्रोफाइल मुकाबला देखने को मिलेगा।
 
शिवराज बनाम अरुण यादव : मध्यप्रदेश में सबसे हाई प्रोफाइल सीट बुधनी में इस बार कांग्रेस ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के सामने अरुण यादव को चुनावी मैदान में उतार कर चुनावी मुकाबले को दिलचस्प बना दिया है। अरुण यादव के चुनाव लड़ने से इस सीट पर यादव और ओबीसी वोटरों पर सबकी निगाह लग गई है।
 
सीताशरण शर्मा बनाम सरताज सिंह : चुनाव से ठीक पहले बीजेपी छोड़कर कांग्रेस में शामिल सरताज सिंह के होशंगाबाद सीट से चुनाव लड़ने से चुनावी मुकाबला दिलचस्प हो गया है। बीजेपी ने इस सीट से विधानसभा अध्यक्ष सीताशरण शर्मा को फिर से मैदान में उतारा है। सरताज सिंह के होशंगाबाद में जमीनी स्तर पर काफी पकड़ होने से चुनावी मुकाबला जोरदार हो गया है।
 
जयंत मलैया बनाम रामकृष्ण कुसमारिया : दमोह सीट से लड़ रहे वित्त मंत्री जयंत मलैया का सीधा मुकाबला अपनी ही पार्टी के बागी उम्मीदवार रामकृष्ण कुसमारिया से है। कुर्मी वोट बैंक में अच्छी पकड़ रखने वाले दिग्गज नेता कुसमारिया अपनी ही पार्टी के नेता पर भारी दिख रहे है।
 
राजेंद्र शुक्ला बनाम अभय मिश्र : रीवा में इस बार शिवराज सरकार के कैबिनेट मंत्री राजेंद्र शुक्ल के समाने कांग्रेस ने बड़े नेता अभय मिस्र को चुनावी मैदान में उतारा है। चुनाव से पहले बीजेपी छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए अभय मिश्र के चुनाव लड़ने से मुकाबला काफी दिलचस्प हो गया है। 
 
सुरेंद्र पटवा बनाम सुरेश पचौरी : भोपाल से सटी भोजपुर विधानसभा सीट पर इस बार कड़ा मुकाबला देखने को मिल रहा है। बीजेपी ने एक बार मंत्री सुरेंद्र पटवा को मैदान में उतारा है तो दूसरी ओर कांग्रेस ने अपने दिग्गज नेता सुरेश पचौरी को चुनावी मैदान में उतारा है। ये चुनाव सुरेश पचौरी के लिए राजनीतिक रूप से काफी अहम रोल अदा करेगा। 
 
नरोत्तम बनाम राजेंद्र भारती : दतिया सीट इस बार भी सबसे हाई प्रोफाइल सीट में गिनी जा रही है। शिवराज कैबिनेट के दिग्गज मंत्री नरोत्तम मिश्र पेड न्यूज के मामले में उलझने के बाद एक बार फिर चुनावी मैदान में है। नरोत्तम की सीधी टक्कर कांग्रेस उम्मीदवार राजेंद्र भारती से है।
 
उमाशंकर गुप्ता बनाम पीसी शर्मा : भोपाल उत्तर सीट से चुनाव लड़ रहे मंत्री उमाशंकर गुप्ता का सीधा मुकाबला कांग्रेस उम्मीदवार पीसी शर्मा से है। पीसी शर्मा की छवि और एक बड़े वोट बैंक में अच्छी पकड़ होना उमाशंकर गुप्ता के लिए काफी मुश्किल खड़ा कर रहा है।
 
भूपेंद्र सिंह बनाम अरूणोदय चौबे : सागर के खुरई सीट से चुनाव लड़ रहे गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह के इस बार मुकाबला कांग्रेस के अरूणोदय चौबे से है। इस बार इस सीट पर चुनावी मुकाबला काफी दिलचस्प माना जा रहा है।
 
अजय सिंह बनाम शरदेंदु तिवारी : विधानसभा चुनाव में चुरहट सीट पर काफी घमासान रहा। नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह का मुकाबला इस बार भी बीजेपी उम्मीदवार शरदेंदु तिवारी से है। चुरहट सीट पर इस बार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की जन आशीर्वाद यात्रा भी पहुंची थी, जिस पर पथराव हुआ था। बीजेपी ने इसके पीछे साजिश रचने का आरोप अजय सिंह पर लगाया था। 
 
संजय सिंह मासानी बनाम योगेन्द्र निर्मल : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के रिश्तेदार संजय सिंह के वारासिवनी से चुनाव लड़ने से मुकाबला काफी दिलचस्प हो गया है। चुनाव के समय कांग्रेस में शामिल हुए संजय सिंह का मुकाबला योगेंद सिंह निर्मल से है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख शर्मनाक, गुजरात में डॉक्टर ने नशे में कराया प्रसव, जच्चा-बच्चा दोनों की मौत