एट्रोसिटी एक्ट के विरोध में करवा चौथ का व्रत करेंगे सपाक्स कार्यकर्ता

विशेष प्रतिनिधि

शनिवार, 27 अक्टूबर 2018 (10:04 IST)
भोपाल। चुनाव के समय आए करवा चौथ पर मध्यप्रदेश में सियासी रंग भी देखने को मिल रहा है। जहां करवा चौथ पर नेताओं की पत्नी अपने पति की लंबी आयु की प्रार्थना कर रही है, वहीं अपने पति को चुनाव में जीत दिलाने के लिए जनसंपर्क कर लोगों से मिल भी रही है।


करवा चौथ पर सापक्स कार्यकर्ता उपवास कर एट्रोसिटी एक्ट का विरोध करेंगे। सपाक्स के अध्यक्ष हीरालाल त्रिवेदी ने करवा चौथ पर प्रदेश की भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेश में सुख-शांति लाने और महिलाओं पर बढ़ते अत्याचार को रोकने के लिए वे प्रदेश के लोगों से अपील करेंगे कि वे करवा चौथ पर व्रत रहें।

हीरालाल ने एट्रोसिटी एक्ट का विरोध करते हुए कहा कि आज देश में ऐसे कानून की आवश्यकता है जो जाति-लिंग के आधार पर लोगों में कोई विरोध नहीं करता हो। करवा चौथ पर उपवास रखकर सपाक्स के कार्यकर्ता एट्रोसिटी एक्ट का विरोध कर इसे खत्म करने की मांग भी कर रहे हैं।

सापक्स 24 अक्टूबर से 30 अक्टूबर तक प्रदेश में एट्रोसिटी एक्ट के विरोध में विरोध प्रदर्शन कर रही है। भोपाल में बोट क्लब पर सापक्स कार्यकर्ताओं ने नुक्कड़ नाटक करके एट्रोसिटी एक्ट और रिजर्वेशन का विरोध जताया। सपाक्स पार्टी प्रदेश की सभी 230 सीटों पर चुनाव लड़ने का ऐलान कर चुकी है। पार्टी जल्द ही अपने उम्मीदवारों का ऐलान करेगी।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख सात सांसदों, 199 विधायकों ने नामांकन के समय नहीं दी पैन कार्ड की जानकारी, रिपोर्ट में खुलासा