Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

भगवंत मान की कैबिनेट में 4 SC मंत्री, सिर्फ 1 महिला, 10 चेहरों के नाम तय

हमें फॉलो करें webdunia
शनिवार, 19 मार्च 2022 (08:02 IST)
आम आदमी पार्टी (आप) ने शुक्रवार को पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान के मंत्रिमंडल में 10 मंत्रियों के नामों को अंतिम रूप दे दिया। पंजाब विधानसभा चुनाव 2022 में बादल पिता-पुत्र, चरणजीत सिंह चन्नी, नवजोत सिंह सिद्धू को हराकर बड़ा उलटफेर करने वाले सभी विधायकों को मंत्री नहीं बनाया जा रहा है।

पंजाब में दूसरी बार विधायक बने आम आदमी पार्टी के अधिकांश नेताओं की अनदेखी की गई है। पूर्व नेता प्रतिपक्ष हरपाल सिंह चीमा, जो दिर्बा से दूसरी बार विधायक हैं, और गुरमीत सिंह मीत हायर, जिन्होंने बरनाला से दूसरी बार जीत हासिल की है, को छोड़कर बाकी 8 मंत्री पहली बार विधायक बने हैं।
 
ये 10 चेहरे कैबिनेट में होंगे
भगवंत मान की कैबिनेट में शामिल होने वाले 10 मंत्री हैं, हरपाल सिंह चीमा, डॉ बलजीत कौर, हरभजन सिंह ETO, डॉ विजय सिंगला, गुरमीर सिंह मीत हायर, हरजोत सिंह बैंस, लाल चंद कटारुचक, कुलदीप सिंह धालीवाल, लालजीत सिंह भुल्लर, ब्रह्म शंकर जिम्पा शामिल हैं।

पंजाब विधानसभा चुनाव 2022 में डॉ विजय सिंगला ने कांग्रेस उम्मीदवार और लोकप्रिय पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला को हराया। वहीं पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल को हराने वाले गुरमीत सिंह खुददियां और पूर्व डिप्टी सीएम सुखबीर सिंह बादल को हराने वाले जगदीप सिंह कंबोज गोल्डी को भगवंत मान की कैबिनेट में स्थान नहीं मिला है।

वहीं, पंजाब चुनाव 2022 में कांग्रेस के मुख्यमंत्री उम्मीदवार रहे चरणजीत सिंह चन्नी को चमकौर साहिब से हराने वाले डॉ चरणजीत सिंह और भदौर से हराने वाले लाभ सिंह उघोके को भी आम आदमी पार्टी ने मंत्रिमंडल में नहीं शामिल कर,आश्चर्यजनक रूप से नजरअंदाज किया है। साथ ही पटियाला शहर से कैप्टन अमरिंदर सिंह को हराने वाले अजीत पाल सिंह कोहली का नाम भी मंत्रियों की लिस्ट में नहीं शामिल है।
 
इसी तरह आम आदमी पार्टी ने लगातार दूसरी बार विधायक बनने वालों को भी नजरअंदाज किया है. राज्य में 70,000 से अधिक मतों के सबसे बड़े अंतर से जीतने वाले सुनाम विधायक अमन अरोड़ा को भी नजरअंदाज किया गया है. मंत्रियों की पहली सूची में आम आदमी पार्टी ने अनुसूचित जाति के 4 विधायकों को जगह दी है।
 
मालवा (दिरबा, मलौत, मानसा, बरनाला और आनंदपुर साहिब) से 5 और माझा से 4 (जंडियाला, भोआ, अजनाला और पट्टी) विधायकों को भगवंत मान मंत्रिमंडल में प्रतिनिधित्व दिया गया है. वहीं, दोआबा (होशियारपुर) से केवल 1 विधायक को मंत्री पद मिला है। पंजाब में मंत्री पद के लिए आम आदमी पार्टी की सूची में 4 जाट, 4 अनुसूचित जाति, 2 हिंदू और केवल 1 महिला शामिल है।
 
भगवंत मान अपने मंत्रिमंडल में नियमानुसार अधिकतम 17 मंत्री रख सकते हैं। पंजाब विधानसभा में 117 सदस्य हैं। इस बीच, कोटकपूरा से दूसरी बार विधायक चुने गए कुलतार सिंह संधवान पंजाब विधानसभा के अध्यक्ष होंगे। उन्होंने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Corona India Update : कोरोना ने फिर बढ़ाई चिंता, केंद्र सरकार ने राज्‍यों को किया अलर्ट