Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

सेना ने 11 बैंकों से किया समझौता, अग्निवीरों को मिलेगी यह सुविधा

हमें फॉलो करें webdunia
रविवार, 16 अक्टूबर 2022 (07:32 IST)
नई दिल्ली। भारतीय सेना ने ‘अग्निवीरों’ के पंजीकरण के बाद उन्हें बैंकिंग सुविधाएं प्रदान करने के लिए 11 बैंकों के साथ सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं। ‘अग्निवीरों’ का पहला बैच अगले साल जनवरी तक सेना के प्रशिक्षण केंद्रों में शामिल हो जाएगा।
 
रक्षा मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा कि भारतीय सेना ने पंजीकरण के बाद ‘अग्निवीरों’ को बैंकिंग सुविधाएं प्रदान करने के लिए भारतीय स्टेट बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, आईडीबीआई बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, एचडीएफसी बैंक, एक्सिस बैंक, यस बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक, आईडीएफसी फर्स्ट बैंक और बंधन बैंक जैसे 11 बैंकों के साथ ऐतिहासिक सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं।

एडजुटेंट जनरल लेफ्टिनेंट जनरल सी बंसी पोनप्पा की अध्यक्षता में शुक्रवार को महानिदेशक (एमपी एंड पीएस) लेफ्टिनेंट जनरल वी. श्रीहरी और बैंकों के वरिष्ठ अधिकारियों ने समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए।

अग्निवीर वेतन पैकेज के तहत दी जाने वाली सुविधाएं एवं लाभ रक्षा वेतन पैकेज के ही समान हैं। इसके अतिरिक्त बैंकों ने निर्धारित सेवा पूरी करने वाले अग्निवीरों को उनके उद्यमशीलता कौशल को बढ़ावा देने और इसे बेहतर बनाने के लिए बेहद कम ब्याज अथवा बिना ब्याज के ऋण उपलब्ध कराने की पेशकश की है।
 
webdunia


 
 
इस साल जून में सरकार ने तीनों सेनाओं के लिए 'अग्निपथ' योजना की घोषणा की थी। योजना के तहत साढ़े 17 से 21 वर्ष की उम्र के युवाओं को केवल चार साल के लिए सेना में भर्ती किया जाएगा, जिसमें से 25 प्रतिशत को नियमित सेवा के लिए चुना जाएगा।

साल 2022 के लिए ऊपरी उम्र सीमा को बढ़ाकर 23 वर्ष कर दिया गया है। तीनों सेवाएं फिलहाल नई योजना के तहत भर्ती प्रक्रिया शुरू कर रही हैं।
Edited by : Nrapendra Gupta 
 
इस साल जून में सरकार ने तीनों सेनाओं के लिए 'अग्निपथ' योजना की घोषणा की थी। योजना के तहत साढ़े 17 से 21 वर्ष की उम्र के युवाओं को केवल चार साल के लिए सेना में भर्ती किया जाएगा, जिसमें से 25 प्रतिशत को नियमित सेवा के लिए चुना जाएगा।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Russia-Ukraine War News : यूक्रेन पर रूस के हमले जारी, बिजली संयंत्र को बनाया निशाना