रिटायरमेंट के दिन वायुसेना प्रमुख बनेंगे एयर मार्शल भदौरिया, 28 साल बाद बना यह संयोग

शुक्रवार, 20 सितम्बर 2019 (08:46 IST)
नई‍ दिल्ली। वायु सेना उप प्रमुख एयर मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया को भारतीय वायु सेना का नया प्रमुख नियुक्त किया गया है। वह वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बी एस धनोआ का स्थान लेंगे। भदौरिया 30 सितंबर को अपना पदभार ग्रहण करेंगे, इसी दिन वह रिटायर भी हो रहे थे। हालांकि उन्हें 2 साल का एक्सटेंशन दिया गया है। 
 
28 साल पहले भी हुआ है ऐसा मामला : वायुसेना के इतिहास में 28 साल बाद ऐसा संयोग बना है जब रिटायरमेंट के दिन सरकार ने किसी अधिकारी को नए सेना प्रमुख की जिम्मेदारी सौंपी हो। 1991 में एयर मार्शल एनसी सूरी को भी इसी तरह वायु सेना प्रमुख बनाया गया था।

भदौरिया गत मई में ही एयर मार्शल अनिल खोसला के स्थान पर वायु सेना उप प्रमुख बनाए गए थे। एयर मार्शल भदौरिया को 15 जून 1980 में वायु सेना की लड़ाकू विंग में कमीशन मिला था। मेरिट में सर्वोच्च स्थान पर रहने के लिए उन्हें ‘स्वोर्ड ऑफ ऑनर’ प्रदान किया गया था।
 
भदौरिया के नाम दर्ज है यह विशेष उपलब्धि : भारतीय वायु सेना के नए चीफ भदौरिया को 4000 घंटे से भी अधिक की उडान का अनुभव है और वह अब तक 26 तरह के लड़ाकू विमान उड़ा चुके हैं। लगभग 40 वर्ष के करियर में विभिन्न महत्वपूर्ण और संचालन तथा प्रशासनिक पदों पर रहे हैं। एयर मार्शल भदौरिया फ्रांस से खरीदे जाने वाले राफेल लड़ाकू विमान के सौदे के लिए बातचीत करने वाली टीम के अध्यक्ष भी रहे हैं।
 
एयर मार्शल भदौरिया दक्षिण पश्चिम के महत्वपूर्ण सेक्टर में जगुआर लड़ाकू विमान के स्क्वैड्रन के कमांडर और विभिन्न उड़ान परीक्षण केन्द्रों के निदेशक भी रहे हैं। देश में ही बने स्वदेशी लड़ाकू विमान तेजस के उड़ान परीक्षण केन्द्र की कमान भी वह संभाल चुके हैं।
 
मिले हैं कई विशिष्ट सम्मान : राष्ट्रीय रक्षा अकादमी के कमांडेंट के अलावा भदौरिया रूस की राजधानी मास्को में भी कार्य कर चुके हैं। विभिन्न अभियानों में उल्लेखनीय सेवा के लिए उन्हें अतिविशिष्ट और परमविशिष्ट पदकों से सम्मानित किया जा चुका है। 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख ऑटो में सफर करना पड़ा महंगा, चुकाना पड़ा 4300 रुपए किराया