Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Prophet Controversy : ओवैसी ने की नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग, भाजपा पर लगाया यह आरोप...

हमें फॉलो करें webdunia
शनिवार, 11 जून 2022 (23:18 IST)
भुज (गुजरात)। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने शनिवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा को पैगंबर मोहम्मद के बारे में उनकी विवादास्पद टिप्पणी के लिए गिरफ्तार किया जाना चाहिए।ओवैसी ने भाजपा पर आरोप लगाया कि एक टीवी बहस के दौरान शर्मा की टिप्पणियों के बाद भाजपा ने उनके खिलाफ समय पर कार्रवाई नहीं की, जिससे एक बड़ा विवाद पैदा हो गया।

उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर किसी को भी हिंसा में शामिल नहीं होना चाहिए और न ही पुलिस को कानून अपने हाथ में लेना चाहिए। उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाया कि एक टीवी बहस के दौरान शर्मा की टिप्पणियों के बाद भाजपा ने उनके खिलाफ समय पर कार्रवाई नहीं की, जिससे एक बड़ा विवाद पैदा हो गया।
 
ओवैसी ने कहा, नूपुर शर्मा को गिरफ्तार नहीं किया जा रहा है। कानून के अनुसार, उन्हें गिरफ्तार किया जाना चाहिए। उन्हें इतने दिनों से गिरफ्तार नहीं किया गया है। आप उन्हें गिरफ्तार क्यों नहीं करते और उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई क्यों नहीं करते? आपको कौन रोक रहा है?
 
एआईएमआईएम के प्रमुख ने कहा कि पार्टी के संविधान का उल्लंघन करने के लिए उन्हें निलंबित करने की भाजपा की कार्रवाई से यह मुद्दा हल नहीं हो जाता और किसी को भी भारतीय संविधान के बारे में भी सोचना चाहिए।
 
उन्होंने कहा, नूपुर शर्मा के खिलाफ कार्रवाई करें, उन्हें कानून के अनुसार गिरफ्तार करें। हम मांग करते हैं कि उन्हें गिरफ्तार किया जाए और कानून के अनुसार उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए। अगर भाजपा गंभीर होती, तो वह उन्हें उसी वक्त बताती (कि उनके बयान आपत्तिजनक थे), लेकिन ऐसा करने में दस दिन लग गए।
 
ओवैसी ने कहा कि टिप्पणी पर शर्मा का माफीनामा पर्याप्त नहीं है। उन्होंने कहा, हमें माफी नहीं चाहिए। कानून को अपना काम करना चाहिए। शर्मा की टिप्पणी के विरोध में विभिन्न शहरों से हुई हिंसा के बारे में पूछे जाने पर ओवैसी ने कहा कि किसी को भी हिंसा में शामिल नहीं होना चाहिए।
 
हैदराबाद के सांसद ने कहा, लोकतंत्र के लिए यह महत्वपूर्ण है कि कोई हिंसा नहीं होनी चाहिए। यह सरकार की जिम्मेदारी है कि वह हिंसा को होने से रोके और इसे रोकने की पूरी कोशिश करे... पुलिस को भी कानून अपने हाथ में नहीं लेना चाहिए। कल रांची में पुलिस की गोलीबारी में दो लोगों की मौत हो गई। ऐसा नहीं होना चाहिए।
 
एआईएमआईएम के औरंगाबाद के सांसद इम्तियाज जलील के बयान कि शर्मा को उनकी टिप्पणी के लिए फांसी दी जानी चाहिए, इस पर ओवैसी ने कहा कि पार्टी का रुख स्पष्ट है कि उन्हें कानून के अनुसार गिरफ्तार किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा, यह पार्टी का रुख है, जिसका सभी को पालन करना होगा। इस साल होने वाले गुजरात विधानसभा चुनाव में पार्टी कितनी सीटों पर चुनाव लड़ेगी, इस पर ओवैसी ने कहा कि इस पर काम किया जा रहा है।(भाषा) 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

जम्मू-कश्मीर : अलग-अलग मुठभेड़ में 2 आतंकवादी ढेर, 1 जवान घायल