Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Agneepath Scheme : अग्निपथ योजना के विरोध में आज भारत बंद का ऐलान, हाई अलर्ट, हिंसा करने वालों पर होगी कड़ी कार्रवाई

हमें फॉलो करें webdunia
सोमवार, 20 जून 2022 (00:22 IST)
नई दिल्ली। केंद्र सरकार की अग्निपथ सैन्य भर्ती योजना (Agneepath Scheme) का बिहार, झारखंड, यूपी सहित कई राज्यों में भारी विरोध हो रहा है। अग्निपथ योजना के विरोध में हो रहे प्रदर्शन और कुछ संगठनों द्वारा 20 जून को भारत बंद (Bharat Bandh) के आह्वान किया गया है।
ALSO READ: Agnipath Scheme : केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने कहा- अग्निपथ स्वैछिक योजना, सेना रोजगार के लिए कोई दुकान नहीं
केंद्र सरकार ने जिस दिन से इस योजना की घोषणा की, उसके दूसरे दिन से विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया गया। सबसे पहले विरोध का स्वर बिहार से शुरू हुआ। अग्निपथ योजना को लेकर देशभर में जारी बवाल के बीच जल, थल, वायुसेना के अधिकारियों की प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि योजना वापस नहीं होगी। साथ ही योजना को लेकर हर सवालों के जवाब दिए। बंद को देखते हुए कई राज्यों में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। 
webdunia
हरियाणा में बीते दिनों इस आंदोलन को लेकर कई जिलों में हिंसक प्रदर्शन हुए थे। ऐसे में भारत बंद के दौरान किसी तरह की अप्रिय घटना नो हो, इसके लिए फरीदाबाद पुलिस ने अपनी सुरक्षा व्यवस्था को चाक-चौबंद करना शुरू कर दिया है। RPF और GRP हाईअलर्ट पर हैं। RPF ने अपने जांच अधिकारियों को सख्ती के निर्देश दिए हैं।
केरल में सख्ती : 20 जून को भारत बंद के आह्वान के बीच केरल रविवार को कहा कि सार्वजनिक संपत्ति को क्षति पहुंचाने या हिंसा में शामिल होने वाले किसी भी व्यक्ति को गिरफ्तार करने के लिए पूरा पुलिस बल तैनात रहेगा। राज्य के पुलिस प्रमुख अनिल कांत ने सार्वजनिक हिंसा और व्यावसायिक प्रतिष्ठानों को जबरन बंद कराने के विरुद्ध कर्मियों को दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। कांत ने जिले के पुलिस प्रमुखों को निर्देश दिया है कि 20 जून को अदालतों, केरल राज्य बिजली बोर्ड के कार्यालयों, परिवहन निगम तथा निजी बसों और सरकारी कार्यालयों की सुरक्षा सुनिश्चित की जाए। 
webdunia
कांग्रेस कार्यकर्ता करेंगे प्रदर्शन : कांग्रेस ने कहा कि 'युवा विरोधी' अग्निपथ योजना और राहुल गांधी को निशाना बनाने की मोदी सरकार की 'प्रतिशोध की राजनीति' के खिलाफ देशभर में पार्टी के लाखों कार्यकर्ता सोमवार को शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन करेंगे। कांग्रेस नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से भी मुलाकात करेगा और मनी लांड्रिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा राहुल गांधी से पूछताछ के विरोध में प्रदर्शन के दौरान दिल्ली पुलिस द्वारा पार्टी सांसदों के साथ कथित दुर्व्यवहार एवं उत्पीड़न को उनके संज्ञान में लाएगा।
 
कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने ट्वीट किया कि सोमवार को देशभर में कांग्रेस के लाखों कार्यकर्ता युवा विरोधी अग्निपथ योजना के खिलाफ और अपने नेता राहुल गांधी, सांसद को निशाना बनाने वाली मोदी सरकार की प्रतिशोध की राजनीति के खिलाफ शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन जारी रखेंगे। उन्होंने कहा,  कांग्रेस का एक प्रतिनिधिमंडल शाम को माननीय राष्ट्रपति से मुलाकात भी करेगा।
 
कई जिलों में इंटरनेट बंद : सशस्त्र बलों में अल्पकालिक भर्ती के लिए ‘अग्निपथ’ योजना के खिलाफ बिहार में रविवार को हिंसक विरोध प्रदर्शन की घटनाओं में कमी आई। उपद्रवियों के खिलाफ पुलिस की कार्रवाई जारी रही और सुरक्षा चिंताओं को देखते हुए ट्रेन सेवाएं प्रभावित रहीं। पुलिस मुख्यालय द्वारा जारी एक बयान के अनुसार राज्य में बड़े पैमाने पर हुई हिंसा और आगजनी के सिलसिले में अब तक कुल मिलाकर 804 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। राज्य के 38 में से 17 जिलों में इंटरनेट सेवाएं बंद हैं और कुछ स्थानों पर पुलिस और अर्धसैनिक बलों की भारी तैनाती जारी है।
कई ट्रेनें रद्द : 'अग्निपथ योजना' के खिलाफ जारी प्रदर्शन के कारण पूर्वी रेलवे ने रविवार को कोलकाता और पश्चिम बंगाल के अन्य क्षेत्रों को जोड़ने वाली 29 ट्रेन रद्द कर दीं जबकि बिहार के विभिन्न हिस्सों में, महाराष्ट्र के बांद्रा और गुजरात के अहमदाबाद में चलने वाली सात ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है, जबकि दो ट्रेनों के मार्ग में कटौती की गई है। बंद को देखते हुए सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था की गई है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Agnipath Scheme : केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने कहा- अग्निपथ स्वैछिक योजना, सेना रोजगार के लिए कोई दुकान नहीं