Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

बीएसएफ ने की ड्रोन के जरिए हथियार गिराने की पाकिस्तान की कोशिश नाकाम

webdunia
शनिवार, 24 अप्रैल 2021 (19:02 IST)
जम्मू। सीमा सुरक्षाबल (बीएसएफ) ने जम्मू कश्मीर में अंतरराष्ट्रीय सीमा से सटे इलाकों में ड्रोन के जरिए हथियार और गोला-बारूद गिराने की पाकिस्तान की कोशिश को शनिवार को नाकाम कर दिया। सतर्क जवानों ने यहां अरनिया सेक्टर में भारतीय क्षेत्र में घुसने पर 2 ड्रोनों पर गोलीबारी कर उनका प्रयास विफल किया। बल के एक प्रवक्ता ने यह जानकारी दी है।

अधिकारियों ने बताया कि तड़के साढ़े चार और पौने पांच बजे के बीच जब्बोवाल और विक्रम सीमा अग्रिम चौकी क्षेत्रों में मानव रहित हवाई वाहन (यूएवी) मंडराते हुए दिखाई दिए जिसके बाद बीएसएफ के कर्मियों ने उन्हें गिराने के लिए उन पर करीब 15 गोलियां चलाईं और वे पाकिस्तान की तरफ लौट गए।

पाकिस्तान ड्रोनों का इस्तेमाल हथियार और मादक पदार्थ गिराने के लिए करता रहा है। यह ताज़ा कोशिश ऐसे समय में हुई है जब जम्मू-कश्मीर में सरहद पर शांति है। भारत और पाकिस्तान 24 और 25 फरवरी की दरमियानी रात से 2003 के संघर्ष विराम समझौते को बरकरार रखने पर सहमत हुए थे जिसके बाद सीमा पर शांति कायम हुई।

बीएसएफ के उपमहानिरीक्षक (डीआईजी) एसपीएस संधू ने यहां एक बयान में कहा, भारत और पाकिस्तान के बीच संघर्ष विराम समझौता अमल में आने के बावजूद पाकिस्तानी रेंजर्स ने भारत के खिलाफ अपनी कुटिल गतिविधियां नहीं रोकीं और जम्मू में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर अपनी कुटिलता को जारी रखे हुए है।

उन्होंने कहा, बीएसएफ के जवानों ने आज (शनिवार को) पाकिस्तान के ड्रोनों के जरिए घुसपैठ की कोशिश को नाकाम कर दिया। देखा गया कि दो ड्रोन/यूएवी पाकिस्तान की ओर से प्रवेश कर रहे हैं और बीएसएफ के सतर्क सैनिकों ने फौरन उन पर गोलियां चलाना शुरू कर दीं जिस वजह से मजबूर होकर वे पाकिस्तानी क्षेत्र में लौट गए।
ALSO READ: BSF DG का बड़ा बयान, पाकिस्तान तस्करी और निगरानी के लिए इस्तेमाल कर रहा है ड्रोन
बीएसएफ जम्मू के जनसंपर्क अधिकारी संधू ने कहा कि बीएसएफ की खुफिया शाखा को इस बात की जानकारी मिल रही थी कि पाकिस्तान भारत में हथियार और गोला-बारूद पहुंचाने के लिए ड्रोन का इस्तेमाल कर सकता है। उन्होंने बताया कि जवान सतर्क हैं और सीमा पर चौकसी बढ़ा दी गई है।
ALSO READ: बाज नहीं आ रहा पाक, LOC के पास की गोलीबारी, BSF ने दिया मुंहतोड़ जवाब
संधू ने बताया कि पाकिस्तान रेंजर्स अंतरराष्ट्रीय सीमा पर ड्रोन के जरिए घुसपैठ कराते हैं और भारतीय क्षेत्र में हथियार और गोला-बारूद गिराने की फिराक में रहते हैं लेकिन बीएसएफ अतीत में भी ऐसी ही कोशिशें नाकाम कर चुकी है।
ALSO READ: सुरंग के बाद अब बर्फ के बीच घुसपैठ की साजिश, BSF की गोलीबारी से डरकर भागे
अधिकारियों ने कहा कि पूरे इलाके की घेराबंदी कर ली गई है और यह पता लगाने के लिए खोज अभियान चलाया जा रहा है कि ड्रोनों ने पाकिस्तान की तरफ लौटने से पहले कुछ गिराया तो नहीं है। अधिकारी ने बताया कि अब तक कुछ भी आपत्तिजनक नहीं मिला है।

पिछले साल 20 जून को बीएसएफ ने पाकिस्तान का एक ड्रोन नष्ट किया था जिसमें अमेरिका में बनी एम4 अर्द्ध स्वचालित कारबाइन और सात चीनी ग्रेनेड थे। इस ड्रोन को कठुआ जिले के पानसर सीमा चौकी पर गिराया गया था।(भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

भोपाल में रेलवे ने तैयार किए 20 कोविड केयर कोचेस,320 कोरोना मरीजों का हो सकेगा इलाज