जेल में कैसे कटी स्वामी चिन्मयानंद की पहली रात

शनिवार, 21 सितम्बर 2019 (10:54 IST)
शाहजहांपुर। पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता स्वामी चिन्मयानंद ने शाहजहांपुर जेल में बड़ी मुश्‍किल से पहली रात काटी। प्राप्त जानकारी के अनुसार, वह रातभर करवटें बदलते रहे और उन्हें ठीक ढंग से नींद भी नहीं आई।
 
जेल में चिन्मयानंद के साथ सामान्य कैदी की तरह ही व्यवहार किया गया। हालांकि जेल प्रशासन ने सुरक्षा की दृष्टि से उन्हें अलग बैरक में रखा। कहा जा रहा है कि उन्होंने दोपहर को मूंग की दाल, आलू की सब्जी और रोटी खाई जबकि रात को खाने में उन्हें अरहर की दाल और हरी सब्जी व रोटी दी गई। वह पूरे दिन गुमसुम रहे।
 
ALSO READ: क्या है स्वामी चिन्मयानंद की पारिवारिक पृष्ठभूमि
चिन्मयानंद के लिए जेल में पहली रात काटना खासा मुश्किलों भरा रहा। वह रातभर करवटें बदलते रहे और उन्हें ठीक ढंग से नींद भी नहीं आई। 
 
शाहजहांपुर के एसएस लॉ कॉलेज की छात्रा से यौन शोषण के आरोप गिरफ्तार पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री चिन्मयानंद को कोर्ट ने शुक्रवार को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था।

ALSO READ: SIT का दावा, चिन्मयानंद ने स्वीकारी गलती, कहा- शर्मिंदा हूं
गौरतलब है कि स्वामी शुकदेवानंद विधि महाविद्यालय में पढ़ने वाली एलएलएम की छात्रा ने 24 अगस्त को कथित तौर पर एक वीडियो वायरल कर चिन्मयानंद पर शारीरिक शोषण करने, कई लड़कियों की जिंदगी बर्बाद करने एवं खुद को तथा अपने परिवार को जान का खतरा होने की बात कही थी।
 
इस मामले में पीड़िता के पिता ने कोतवाली शाहजहांपुर में अपहरण और जान से मारने के आरोप में विभिन्न धाराओं के तहत चिन्मयानंद के विरुद्ध मामला दर्ज कराया था। लेकिन इससे एक दिन पहले चिन्मयानंद के अधिवक्ता ओम सिंह ने पांच करोड़ रुपए की रंगदारी मांगने का मुकदमा पीड़िता के पिता के खिलाफ दर्ज करा दिया।
 
इस बीच पीड़िता गायब हो गई। कुछ दिन बाद उसे राजस्थान से बरामद कर लिया गया और उच्चतम न्यायालय के निर्देश पर उसे दिल्ली में शीर्ष अदालत के समक्ष पेश किया गया। न्यायालय ने एसआईटी को मामले की जांच का निर्देश दिया।
 
एसआईटी ने उन्हें शुक्रवार को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया और उन्हें 14 दिन की न्यायीक हिरासत पर जेल भेज दिया गया। 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख U-23 मुकाबले में टीम इंडिया ने बांग्लादेश को 23 रनों से हराकर सीरीज में बढ़त बनाई