Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

किसानों के साथ धोखा कर रही सरकार, कांग्रेस ने लगाया यह आरोप...

हमें फॉलो करें webdunia
शनिवार, 22 अक्टूबर 2022 (21:55 IST)
नई दिल्‍ली। कांग्रेस ने शनिवार को मोदी सरकार पर किसानों को धोखा देने का आरोप लगाया और कहा कि उसके द्वारा घोषित रबी फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) मुद्रास्फीति की दर से भी कम है। कांग्रेस ने कहा, रबी फसलों की एमएसपी की घोषणा कर मोदी सरकार ने अपनी पीठ थपथपा ली, पर किसान को ठग कर फिर खून के आंसू बहाने के लिए छोड़ दिया।

कांग्रेस महासचिव रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि भले ही भारतीय जनता पार्टी सरकार एमएसपी के लिए पीठ थपथपा रही है, लेकिन उसने वास्तव में किसानों को ठगा है और दावा किया है कि उनकी मेहनत दिवाली की रोशनी में गुम हो गई है।

उन्होंने ट्वीट किया, मोदी सरकार ने एक बार फिर एमएसपी को लेकर किसानों से धोखा किया है। दीपावली की चहल-पहल और रोशनी में अन्नदाता किसान के कठिन परिश्रम का एमएसपी फिर खो गया। रबी फसलों की एमएसपी की घोषणा कर मोदी सरकार ने अपनी पीठ थपथपा ली, पर किसान को ठग कर फिर खून के आंसू बहाने के लिए छोड़ दिया। न मीडिया के मित्रों का ध्यान, न विशेषज्ञों का।

उन्होंने कहा, कड़वा सच यह भी है कि मोदी सरकार केवल एमएसपी की घोषणा करती है, एमएसपी पर खरीद नहीं करती। उन्होंने मांग की है कि एमएसपी को कानूनी दर्जा देने वाला एमएसपी कानून तत्काल लाया जाना जरूरी है।

उन्होंने अन्नदाता के साथ विश्वासघात का आरोप लगाते हुए दावा किया, भाजपाई शकुनी चौसर ने किसान का जीना दूभर कर दिया। न लागत+50%, न उचित दाम, न पर्याप्त खरीदी। न एमएसपी के कानून को दे रहे अंजाम। मोदी जी ने 2014 में वादा किया कि किसानों को लागत+50% देंगे। लागत+50% तो दूर, घोषित किया एमएसपी तो ख़ुद भाजपा सरकारों द्वारा मांगे गए एमएसपी से भी कम है। रबी की एमएसपी की खुली ढोल की पोल।

राज्यसभा सांसद सुरजेवाला ने कहा कि नेता बयानबाजी कर सकते हैं, लेकिन आंकड़े झूठ नहीं बोलते। उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस-संप्रग सरकार ने एमएसपी में 205 प्रतिशत की वृद्धि की, जबकि मोदी सरकार के पिछले आठ वर्षों में एमएसपी में केवल 40 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

उन्होंने कहा, मोदी सरकार द्वारा घोषित एमएसपी देश की महंगाई दर से भी कम है। महंगाई ज्यादा बढ़ी और एमएसपी कम। उन्होंने कहा, हे देशवासियों और मीडिया के मित्रों, ज़रा दिवाली पर दो मिनट देश के 70 करोड़ किसान-खेत मज़दूरों के बारे भी सोचिए और बोलिए उस मेहनतकश किसान-मज़दूर के बारे में, जिसकी वजह से आपका चूल्हा जलता है, चाहे वो ख़ुद को ही क्यों न मिटा दे। सबको दीपावली की शुभकामनाएं। जय किसान!

केंद्र सरकार ने इस सप्ताह की शुरुआत में किसानों के उत्पादन और आय को बढ़ावा देने के लिए गेहूं की फसल के लिए 110 रुपए प्रति क्विंटल की वृद्धि के साथ छह रबी फसलों के एमएसपी में 9 प्रतिशत तक की वृद्धि की थी। गेहूं के एमएसपी को 2015 रुपए प्रति क्विंटल से 5.45 प्रतिशत बढ़ाकर 2,125 रुपए प्रति क्विंटल कर दिया गया है।(भाषा)
Edited by : Chetan Gour

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

पूर्व राष्ट्रपति कोविंद ने बेचा अपना पुराना घर, जानिए क्‍या है कीमत...