Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

कांग्रेस ने बताया मोदी सरकार को किसान विरोधी, कहा- हर घंटे 1 किसान कर रहा है आत्महत्या

हमें फॉलो करें webdunia
मंगलवार, 20 सितम्बर 2022 (19:29 IST)
नई दिल्ली। कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने मंगलवार को यहां पार्टी मुख्यालय में मोदी सरकार को किसान विरोधी बताया और कहा कि 2021 में कृषि क्षेत्र से जुड़े कुल 10 हजार 881 लोगों ने आत्महत्या की है। कांग्रेस ने कहा है कि मोदी सरकार की किसान विरोधी नीतियों के कारण किसान परेशान है और जमीनी हालात इतने खराब हो गए हैं कि हर घंटे में एक किसान आत्महत्या को मजबूर है।
 
कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने मंगलवार को यहां पार्टी मुख्यालय में मोदी सरकार को किसान विरोधी बताया और कहा कि 2021 में कृषि क्षेत्र से जुड़े कुल 10 हजार 881 लोगों ने आत्महत्या की है। इस तरह से पिछले साल हर रोज 30 किसान और हर घंटे में 1 किसान आत्महत्या करने को मजबूर हुआ है।
 
राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के आंकड़ों का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि 2014 से 2021 तक देश में 53 हजार 881 से ज्यादा किसानों ने आत्महत्या की है। इस तरह से 21 किसान रोज हताश और निराश होकर अपनी जान देने को मजबूर हुए हैं, लेकिन सवाल है कि उन्हें मजबूर किसने किया? उन्होंने इसे मोदी सरकार की विफलता का नतीजा बताया और कहा कि देश के अन्नदाताओं की इस दयनीय स्थिति के बावजूद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तमाशा करने और अपने झूठे महिमामंडन करने में व्यस्त हैं।
 
उन्होंने कहा कि आत्महत्या करने वाले किसान अपनी मजबूरी के लिए मोदी को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। इस संबंध में उन्होंने महाराष्ट्र के किसान दशरथ लक्ष्मण केदारी का जिक्र किया और कहा कि पुणे के इस किसान ने आत्महत्या की है और अपने आत्महत्या नोट में उसने मोदी की निष्क्रियता को अपनी आत्महत्या की वजह बताया और कहा कि उनके कारण वह जान देने को मजबूर है। किसान की आत्महत्या का यह पहला अंतिम मामला नहीं है और मोदी सरकार की विफलता के कारण लगातार इस तरह की घटनाएं हो रही हैं।
 
प्रवक्ता ने कहा कि सबसे बड़ी विडंबना यह है कि इस साल मोदी किसानों की आय दोगुनी करने वाले थे, लेकिन असलियत यह है कि आज देश के किसान की औसत आय 27 रुपए प्रतिदिन ही है। उन्होंने कहा कि ए वही प्रधानमंत्री हैं जिनकी जिद और अहंकार के चलते किसान आंदोलन के दौरान 700 किसानों की शहादत हुई है।(वार्ता)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

5000mAh बैटरी, 50MP ट्रिपल रियर कैमरे वाला सस्ता स्मार्टफोन, जानिए कीमत और फीचर्स