Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

मोदी की राह पर नीतीश, उत्तर प्रदेश से लड़ सकते हैं लोकसभा चुनाव

हमें फॉलो करें webdunia

अवनीश कुमार

रविवार, 18 सितम्बर 2022 (19:12 IST)
लखनऊ। बिहार में राजनीतिक उठापटक करने के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार उत्तर प्रदेश की तरफ कदम बढ़ा रहे हैं। 2024 के लोकसभा चुनाव को देखते हुए उनकी पार्टी जनता दल यूनाइटेड उत्तर प्रदेश में नीतीश कुमार के लिए मुफीद सीट तलाश रही है, जिसको लेकर उत्तर प्रदेश के अंदर सरगर्मियां तेज हो गई हैं और विपक्षी दल के बड़े नेताओं से मिलने का दौर भी चालू हो गया है।

राजनीतिक दलों के कई बड़े नेताओं की मानें तो प्रधानमंत्री की गद्दी तक पहुंचने का सपना देख रहे नीतीश कुमार सपने को पूरा करने के लिए उत्तर प्रदेश की तरफ बढ़ रहे हैं और इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी दिल्ली की गद्दी का रास्ता चुनने के लिए उत्तर प्रदेश से ही शुरुआत की थी जिसको देखते हुए नीतीश कुमार भी उत्तर प्रदेश से दिल्ली की गद्दी का रास्ता निकालने में जुटे हुए हैं।

नेताओं की मानें तो नीतीश कुमार के लिए उत्तर प्रदेश की प्रयागराज की फूलपुर की सीट राजनीतिक समीकरणों के हिसाब से बिलकुल ठीक बैठ रही है और वोट बैंक को आधार बनाकर फूलपुर की सीट से लोकसभा चुनाव लड़ने की तैयारी में नीतीश कुमार जुटे हुए हैं।

लेकिन उनके लिए उत्तर प्रदेश से राहें आसान होने वाली नहीं हैं क्योंकि उसके पीछे की मुख्य वजह समाजवादी पार्टी है और अगर वह महागठबंधन दल के नेता के रूप में चुनावी मैदान में उतरते हैं तो इसके लिए उन्हें समाजवादी पार्टी से बातचीत करनी होगी तभी जाकर कहीं प्रयागराज की फूलपुर की सीट पर मजबूती के साथ नीतीश कुमार चुनावी मैदान में लड़ते हुए नजर आएंगे लेकिन नीतीश कुमार के फूलपुर से मैदान में उतरने की बात को लेकर अभी से विपक्षी दल के नेताओं में एकमत बनता हुआ नहीं दिख रहा है।

लेकिन वहीं राजनीतिक जानकार राजेश सिंह बताते हैं कि यह कहना बेहद जल्दबाजी होगी कि नीतीश कुमार उत्तर प्रदेश की फूलपुर सीट से चुनावी मैदान में उतरकर दिल्ली का रास्ता तय करेंगे क्योंकि अगर उन्हें फूलपुर से चुनावी मैदान में उतरना है तो सबसे पहले समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से बातचीत करनी होगी और अखिलेश यादव को मनाना होगा।

जनाधार के रूप में समाजवादी पार्टी का जनाधार नीतीश कुमार की पार्टी से बड़ा है और ऐसी स्थिति में भारतीय जनता पार्टी को टक्कर देने के लिए समाजवादी पार्टी का नीतीश कुमार के साथ खड़ा होना बेहद जरूरी है तब जाकर कहीं नीतीश कुमार उत्तर प्रदेश के अंदर सीधे तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को टक्कर देते हुए नजर आएंगे लेकिन अभी के हालातों को देखते हुए फूलपुर से नीतीश कुमार का चुनावी मैदान में उतरना संभव नजर नहीं आ रहा है।

क्योंकि न ही समाजवादी पार्टी की तरफ से किसी भी प्रकार की कोई बात लोकसभा चुनाव को लेकर कही जा रही है और न ही किसी भी प्रकार से अभी तक समाजवादी पार्टी व अन्य दलों ने नीतीश कुमार को लेकर कोई बात खुलकर की है। इसके चलते अभी यह कह पाना बेहद मुश्किल है कि नीतीश कुमार उत्तर प्रदेश से लोकसभा चुनाव लड़कर अपनी किस्मत आजमाएंगे।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

PM मोदी से मिलेंगे कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए 8 विधायक