Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

बस, बहुत हुआ, अब दुनिया का ‘दम’ नहीं घुटना चाहिए, ‘मास्‍क’ हट जाना चाहिए...

webdunia
webdunia

नवीन रांगियाल

एक बच्‍चा पैदा होता है और पैदा होने के तुरंत बाद वो डॉक्‍टर के चेहरे पर लगा मास्‍क अपनी नाजुक उंगलियों से खींच लेता है। जैसे कह रहा हो, बस, बहुत हुआ... अब दम नहीं घुटना चाहिए, इस मास्‍क को दुनिया के चेहरे से हट जाना चाहिए


एक तस्‍वीर यूं तो एक हजार शब्‍दों के बराबर होती है। लेकिन इस वक्‍त इस बच्‍चे की जो तस्‍वीर इंटरनेट पर वायरल हो रही है वो दुनिया की कुल आबादी करीब साढे 7.8 मिलियन लोगों की आवाज या उम्‍मीद के तौर पर देखी जा रही है। जैसे यह मासूम बच्‍चा ऊपर वाले का फरिश्‍ता बनकर आया हो और कह रहा है कि यह मास्‍क अब अपने चेहरे से हटा लो, अब पूरी दुनिया को इस घुटन से आजाद होना चाहि‍ए।

‘कोरोना वायरस’ और इसकी भयावह ‘त्रासदी’ के बीच ‘उम्‍मीद की इस नवजात’ तस्‍वीर को अपनी जिंदगी में हर कोई साकार कर लेना चाहता है।

नवजात बच्‍चे की एक मासूम तस्‍वीर ही सही, दुनिया इस संकेत को समझ रही है और उम्‍मीद तो लगा ही रही है।

इस तस्‍वीर ने इंटरनेट में धूम मचा रखी है। पैदा होने के महज कुछ मिनट बाद ही जो डॉक्‍टर उस बच्‍चे को अपनी गोद में उठाता है, तो बच्‍चा उस डॉक्‍टर के मुंह पर लगा मास्‍क अपने हाथों से खींचकर हट देता है। इस अनजान और मासूम हरकत पर डॉक्‍टर मुस्‍करा देता है और दुनिया के जेहन में जैसे कोई उम्‍मीद उग आती है।

जिस बच्‍चे ने डॉक्टर के सर्जिकल मास्क को चेहरे से खींचते हुए दिखाई दे रही है। यह तस्वीर यूएई के गायनोकॉलोजिस्ट डॉक्टर समीर चेयब ने अपने इंस्टाग्राम अकांउट पर शेयर की है। इसमें दिख रहा है कि बच्चे ने अपने हाथ से मास्क को चेहरे से उतार दिया और डॉक्टर के चेहरे पर खुशी झलक पड़ती है।

डॉ चेयब ने बाद में इंस्टाग्राम और फेसबुक पर तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा- हम सभी को शायद यह संकेत मिल रहा है कि हम जल्द मास्क उतारने जा रहे हैं

यह तस्वीर सोशल मीडिया पर डालने के बाद ऐसे वायरल हुई कि अब तक हजारों-लाखों लाइक्स मिल चुके हैं। कई लोगों ने इसमें भविष्य का संकेत देखा तो कुछ ने कहा कि इसे 2020 की तस्वीर घोषित किया जाए। एक ने लिखा है- हम जल्द ही मास्क उतारेंगे।

कुछ यूजर्स ने लिखा, दुनिया को अब मास्‍क से मुक्‍त‍ि चाहिए।

दरअसल, कोरोना वायरस की महामारी के बीच दुनिया इस वक्‍त दो तरह की लाचारी में कैद है। ‘चेहरे पर मास्‍क’ और ‘दो गज की दूरी’। इस त्रासदी ने न सिर्फ लोगों का दम घोंट दिया है, बल्‍कि सोशल डि‍स्‍टेंसिंग का मंत्र देकर लोगों से एक दूसरे से दूर भी कर दिया है। ऐसे वक्‍त में इस तरह की सुंदर और उम्‍मीद से भरी तस्‍वीरें हर कोई देखना और उसे साकार करना चा‍हता है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

13 बार आतंकियों से लोहा लेने वाले शौर्य चक्र विजेता बलविंदर सिंह की हत्या